Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

रायपुर. मंत्री मोहम्मद अकबर की अध्यक्षता में आज राजधानी के शंकर नगर स्थित उनके निवास कार्यालय में नवा रायपुर अटल नगर में आंदोलनरत किसानों के संबंध में एक महत्वपूर्ण बैठक आहूत की गई थी. बैठक में नगरीय प्रशासन मंत्री और आरंग विधायक डॉ. शिवकुमार डहरिया, विधायक अभनपुर धनेन्द्र साहू और अपर मुख्य सचिव सुबत साहू और संचालक ग्राम और नगर निवेश जय प्रकाश मौर्य सहित नवा रायपुर विकास प्राधिकरण के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें – Blackheads Removal : क्या आपके चहरे पर दिख रहे ब्लैकहेड्स, तो इसे हटाने के लिए घर पर ऐसे बनाएं स्ट्रिप … 

बैठक में निर्धारित समय के उपरांत भी शंकर नगर स्थित आवास मंत्री अकबर के निवास कार्यालय में नई राजधानी प्रभावित किसान कल्याण समिति के कोई भी पदाधिकारी और सदस्य उपस्थित नहीं हुए. इस दौरान नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने बताया कि बैठक में किसान कल्याण समिति के अध्यक्ष रूपन चन्द्राकर और कार्यकारी अध्यक्ष समिति की उपस्थिति के लिए पूर्व सहमति प्रदान की गई थी. डॉ. डहरिया ने बताया कि किसान कल्याण समिति ने बैठक में उपस्थिति के लिए लिखित में पत्र देने कहा, लिखित में भी बैठक में उपस्थिति की सूचना दी गई, लेकिन किसान कल्याण समिति के पदाधिकारी उपस्थित नहीं हुए. अब किसान कल्याण समिति से चर्चा उपरांत पुनः अलग से तिथि निर्धारित की जाएगी.

इसे भी पढ़ें – आईपीएल शुरू होने से पहले RCB के लिए अच्छी खबर, इस बल्लेबाज ने 64 गेंदों पर जड़ दिए 154 रन… 

गौरतलब है कि विगत दिवस वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री मोहम्मद अकबर ने छेरछेरा के पावन पर्व के अवसर पर उनके शंकर नगर स्थित शासकीय निवास कार्यालय छेरछेरा मांगने आए नवा रायपुर के किसानों को बड़ी ही विनम्रता और सम्मान के साथ धान का दान दिया था. उन्होंने इस मौके पर किसान मंच समिति के सभी पदाधिकारी और किसान भाईयों को छेरछेरा पर्व और शाकंभरी जयंती की बधाई और शुभकामनाएं दी थी. मंत्री अकबर को इस मौके पर किसान मंच समिति के पदाधिकारियों और सदस्यों ने नवा रायपुर में पुनर्वास और पुनर्व्यवस्थापन की मांगों के संबंध में ज्ञापन सौंपा था. मंत्री अकबर ने किसान भाईयों की मांगों के संबंध में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और नवा रायपुर विकास प्राधिकरण के अधिकारियों से चर्चा कर उनकी मांगों का यथोचित समाधान किए जाने का भरोसा दिलाया था.

">
Share: