Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

दुर्ग. गणतंत्र दिवस समारोह दुर्ग जिले में पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया गया. छत्तीसगढ़ शासन वन एवं जलवायु परिर्वतन विभाग मंत्री मोहम्मद अकबर ने दुर्ग के पुलिस परेड ग्राउण्ड में आयोजित 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के मुख्य समारोह में ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली है. इस अवसर पर उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का दुर्ग जिले के जनता के नाम संदेश का वाचन किया. उन्होंने उल्लास और उमंग के प्रतीक रंगीन गुब्बारे आसमान में छोड़े.

इसे भी पढ़ें – मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने की ‘नोनी सशक्तिकरण सहायता योजना’ की घोषणा, 1 बेटी है तो मिलेंगे 20 हजार और 2 बेटियां को 40 हजार 

मुख्य अतिथि मंत्री मोहम्मद अकबर ने ध्वजारोहरण के बाद समारोह में उल्लेखनीय कार्य करने वाले विभिन्न विभागों के अधिकारियों और कर्मचारियों को सम्मानित किया है. समारोह में संभागायुक्त महादेव कावरे, आईजी ओपी पाल, कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेन्द्र भुरे, एसपी बद्रीनारायण मीणा, स्थानीय जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक, जिला और पुलिस प्रशासन के अधिकारी, सभी विभागों के अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित थे.

बायोडायवर्सिटी पार्क में मंत्री अकबर ने लगाया पौधा

तालपुरी में बायोडायवर्सिटी पार्क में वन एवं जलवायु परिर्वतन विभाग मंत्री मोहम्मद अकबर ने एक पौधा लगाया. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि बायोडायवर्सिटी पार्क के माध्यम से जिस तरह से प्राकृतिक परिवेश को सहेजने का कार्य किया गया है, वह स्वागत योग्य है. इसी तरह से हमें अपने प्राकृतिक परिवेश को संवारने का कार्य करना चाहिए.

इसे भी पढ़ें – बड़ी खबरः गणतंत्र दिवस पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने की बड़ी घोषणा;. सरकारी कर्मचारियों को होगा फायदा, इसका असर आप पर भी होगा 

उन्होंने कहा कि यह पार्क पक्षियों की बसाहट के लिए भी बहुत उपयुक्त है. सुबह-सुबह प्राकृतिक हवा का आंनद प्राप्त करने के लिए और प्राकृतिक परिवेश में सयम बिताने के लिए यहां बहुत अच्छा पार्क बनाया गया है. मंत्री अकबर ने चर्चा में कहा कि जलवायु संतुलन बनाए रखने के लिए बहुत आवश्यक है कि हम अधिकाधिक संख्या में पौधें लगाएं और उन्हें सहेजे. इस अवसर पर डीएफओ धम्मशील गणवीर ने विस्तार से पार्क के बारे में जानकारी दी. इस मौके पर संभागायुक्त महादेव कावरे, कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेन्द्र भुरे उपस्थित थे.

खुलेंगे 6 हजार से अधिक प्ले स्कूल

कैबिनेट मंत्री अकबर ने बताया आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम की तर्ज पर प्रत्येक जिला मुख्यालय में एक हिन्दी माध्यम के विद्यालयों की स्थापना की जाएगी. 5-6 वर्ष के बच्चों के लिए प्ले स्कूल बालवाड़ी की स्थापना की जाएगी, जहां प्राथमिक आंगनबाड़ी और प्राथमिक शाला एक ही प्रांगण में होंगें प्रथम चरण में 6 हजार से अधिक बालवाड़ी की स्थापना की जाएगी. उन्होंने कहा सरकार अपने वायदों के मुताबिक 2500 प्रति क्विंटल की दर से किसानों को धान का भुगतान कर रही है. किसान न्याय योजना के तहत 11 हजार करोड़ रूपए से अधिक की व्यवस्था किसान ने की है.

कैबिनेट मंत्री अकबर ने कहा कि धान्य फसलों में कोदा, कुटकी, रागी, दलहन, तिलहन तथा उद्यानिकी फसलों को भी राजीव गांधी किसान न्याय योजना में शामिल किया गया है. उन्होंने बताया कि आगामी खरीफ वर्ष 2022-23 से प्रदेश में दलहन तिलहन फसलों जैसे मूंग, उड़द, अरहर की खरीदी भी न्यूनतम समर्थन मूल्य पर की जाएगी. शहरों में सुधार और विकास के लिए जल्द ही मानव हस्तक्षेप रहित ऑनलाइन डायरेक्ट भवन अनुज्ञा सिस्टम की शुरूआत की जाएगी. जिसमें आवेदक द्वारा दिए गए दस्तावेज पर विश्वास करते हुए 500 वर्गमीटर तक के आवासीय भू-खंडों की भवन निर्माण अनुज्ञा यथाशीघ्र प्राप्त हो जाएगी. इसी प्रकार प्रकार मुख्यमंत्री मितान योजना अंतर्गत 100 से अधिक घर पहुंच सेवाएं उपलब्ध कराई जाएगी. मंत्री अकबर ने बताया कि माता कौशिल्या मंदिर चंद्रखुरी का विकास किया गया है. राम वनगमन मार्ग के 75 स्थलों को चिन्हांकित कर विकास की योजना है, जिसमें से 9 स्थानों पर कार्य प्रगति पर है. यहां बड़े पैमाने पर रोजगार सृजन के माध्यम बनेंगे.

98 लोग हुए सम्मानित

कैबिनेट मंत्री अकबर ने सरकार की विभिन्न योजनाओं को गिनाते हुए बताया कि उनकी सरकार का एक ही सपना और लक्ष्य है कि नवा छत्तीसगढ़ 2 करोड़ 80 लाख लोगों के हाथों में गढ़ा जाए. जिसमें सबकी भागीदारी हो, जिसमें सबको न्याय मिले, जिसमें सबकी खुशहाली सुरक्षित रहे. आगे भी उनकी सरकार प्रयास इसी दिशा में करेगी. इसके उपरांत जिले में उत्कृष्ट कार्य करने वालों 98 लोगों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया और शांति के सूचक गुब्बारा नीले आकाश की ओर छोड़ा. इसके पूर्व कैबिनेट मंत्री अकबर ने सर्किट हाउस में ध्वजारोहण किया और विशिष्टि लोगों मुलाकात की.

मौके पर दुर्ग शहर विधायक अरूण वोरा, महापौर धीरज बाकलीवाल, पूर्व विधायक भजनसिंह निरंकारी, अंत्यावसायी विकास निगम की उपाध्यक्ष नीता लोधी, पदुमलाल पुन्नालाल बख्शी शोधपीठ अध्यक्ष एन.डी.मानिकपुरी, कमिश्नर महादेव कांवरे, आईजी ओ.पी.पाल, कलेक्टर सर्वेश्वर नरेन्द्र भूरे, एसपी बी.एन.मीणा, डी.एफ.ओ. धम्म शील गड़वीर, अपर कलेक्टर नुपूर राशि पन्ना समेत बड़ी संख्या में अधिकारी-कर्मचारी, जनप्रतिनिधि और गणमान्य नागरिक उपस्थित थे.