Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने निजात रथ को हरी झंडी दिखा कर निजात कार्यक्रम का शुभारंभ किया. निजात कार्यक्रम के तीन लक्ष्य हैं. इसमें कड़ी कार्रवाई, जन-जागरुकता और नशे के आदी लोगों की काउंसिलिंग/उपचार- के लिए शासन-प्रशासन, न्यायपालिका एवं समाज के सभी लोगों को एकजुट कर नशे के खिलाफ इस अभियान की शुरूआत की गई है.

पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव संतोष सिंह ने ड्रग्स के खिलाफ ‘निजात’’ कार्यक्रम के माध्यम से अभिनव पहल की गई है. इनके द्वारा पूर्व पदस्थापना-स्थल कोरिया में चलाए गए निजात अभियान को सार्थक परिणाम मिला था.

पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव संतोष सिंह के नेतृत्व में राजनांदगांव पुलिस द्वारा नारकोटिक्स/ड्रग्स के खिलाफ कार्यवाही एवं जागरूकता अभियान- “निजात” का आगाज आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर यातायात शाखा, राजनांदगांव में एक कार्यक्रम द्वारा हुआ.

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में मंत्री रविन्द्र चौबे ने संसदीय कार्य, कृषि एवं जैव प्रौद्योगिकी पशुधन विकास, मछली पालन, जल संसाधन एवं आयाकट थे. उनके द्वारा जागरूकता हेतु -निजात रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया.

इस अवसर पर मंत्री रविन्द्र चौबे जी ने राजनांदगांव पुलिस के अभियान को शुभकामना देते हुए इसकी सराहना की. उन्होंने कहा कि ड्रग्स और नारकोटिक्स के चपेट में आए व्यक्ति का सारा जीवन बर्बाद हो जाता है. सरकार की मंशा हैं की सभी प्रकार के ड्रग्स व नारकोटिक्स विशेषकर गांजा के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई हो.

एडीजे शैलेष शर्मा ने कहा कि ज्यूडिशियरी भी इस गंभीर समस्या को खत्म हेतु विधिक जागरूकता के तहत काम कर रही है. सभी को मिलकर लड़ाई लड़ने की जरूरत है. पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह ने अपने उदबोधन में कहा नशा नाश का जड़ है.वर्तमान में समाज में तेजी से ड्रग्स और नारकोटिक्स में लिप्त होने वालों की बढ़ती संख्या और उससे जुड़े अपराध को देखते हुए उस पर अंकुश लगाना आवश्यक हो गया है.

आजकल बड़े बुजुर्ग के साथ साथ स्कूल व कॉलेजों में भी बच्चों के द्वारा विभिन्न प्रकार के नशीले पदार्थो का सेवन फैशन के रूप में भी किया जाने का प्रचलन बढ़ रहा है, जो समाज के लिए और देश के भविष्य के लिए घातक है. नशे के कारण अपराधों में भी वृ़द्ध हो रही है.

परिवार एवं समाज में नारकोटिक्स/ड्रग्स के बढ़ते प्रभाव के कारण कई दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. इस वजह से नारकोटिक्स/ड्रग्स के फैलते कारोबार व नशा के आदी होने वाले युवकों को रोकने व नशे से मुक्ति दिलाने हेतु जिले में निजात कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया है, जिसमें पुलिस विभाग के साथ साथ लोगों को भी नारकोटिक्स/ड्रग्स के खिलाफ मुहिम में निजात कार्यक्रम के माध्यम से जुड़ने की अपील की गई.

इस अवसर पर कलेक्टर राजनांदगांव तारन प्रकाश सिन्हा, शहर की महापौर हेमा देशमुख, जितेंद्र मुदलियार, धनेश पाटिला, विवेक वासनिक, ए.डी.जे. अभिषेक शर्मा, एडीएम सीएल मार्कण्डेय मंचासीन थे. सभा में एएसपी संजय महादेवा, सुरेशा चौबे, जयप्रकाश बडई, गौरव राय, गजेंद्र सिंह, मयंक गुर्जर, भूपेंद्र गुप्ता सहित अन्य पुलिस के अधिकारी एवं कर्मचारी, जन-प्रतिनिधि और पत्रकार उपस्थित हुए.

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

">
Share: