दो नाबालिग छात्राओं का अपहरण कर यौन उत्पीड़न, छात्रावास में बनाया गया बंधक, अधीक्षिका सहित चार पर यह है आरोप

मिथलेश गुप्ता, जशपुर। जशपुर जिले के सन्ना थाना इलाके में दो नाबालिगों छात्राओं का अपहरण, बंधक बनाए जाने और यौन उत्पीड़न का मामला सामने आया है। मामले में पुलिस ने छात्रावास अधीक्षिका समेत उसके पति, नाबालिग पुत्र और उसके दोस्त के खिलाफ पॉक्सो सहित अन्य धाराओं के तहत अपराध दर्ज किया है।

मामला रविवार का बताया जा रहा है। पुलिस के मुताबिक आदिवासी छात्रावास की अधीक्षिका का नाबालिग पुत्र अपने एक साथ के साथ मिलकर दोनों छात्राओं को पार्टी करने का झांसा देकर उन्हें अपने साथ ले गए। मां के अधीक्षिका होने का फायदा उठाते हुए आरोपी ने कोरोना काल से खाली पड़े छात्रावास में दोनों छात्राओं को लेकर पहुंचे थे।

सन्ना थाना प्रभारी जीवन जांगड़े ने बताया कि दोनों नाबालिग लड़कियों को मोटरसाईकिल में जबरदस्ती बैठाकर छात्रावास लाया गया जहां उन्हें किचन रुम में लड़कों ने पूरी रात बंधक बनाकर रखा। इस बीच मनचले लड़कों ने नाबालिगों को जबरन शराब पिलाने की कोशिश की और शारीरिक संबंध बनाने का प्रयास करने लगे। मनचलों ने युवती का अश्लील वीडियो बनाना शुरु किया हांलाकि वे वीडियो बनाने में सफल नहीं हो सके। जब पीड़ित नाबालिगों ने इसका विरोध किया तो उन पर चोरी का आरोप लगाते हुए रात भर उन्हें बंधक बना कर रखा गया।

अगले दिन छात्रावास अधीक्षिका व उसके पति द्वारा नाबालिगों से मारपीट करते हुए उन्हें थाना लाया गया और पीड़ित नाबालिगों के खिलाफ ही चोरी की शिकायत की गई। जब नाबालिग लड़कियां थाने से बाहर निकलीं तब उन्होंने अपने परिजनों को सारी सच्चाई बताई और आरोपियों के खिलाफ सन्ना थाने में पूरे मामले की शिकायत की।

जिले के पुलिस अधीक्षक बालाजी राव के निर्देश पर सन्ना थाने में छात्रावास अधीक्षिका प्रशंसा खाखा समेत उसके पति जयमन खाखा, नाबालिग पुत्र व उसके दोस्त के खिलाफ आईपीसी की धारा 294, 323, 34, 342, 354, 365 ,506, 8-CHL पॉक्सो एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्ध कर कार्रवाई की जा रही है।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।