BIG Crime Breaking: लापता पटवारी की नदी में मिली लाश, तहसीलदार का कोई सुराग नहीं, घटनास्थल पर पहुंची पुलिस, शव निकालने का काम जारी

धर्मेंद्र यादव, सीहोर। एमपी के सीहोर जिले से इस वक्त की बड़ी खबर सामने आई है। लापता पटवारी महेंद्र रजक की मिली लाश मिली है। वहीं लापता तहीसलदार नरेंद्र सिंह ठाकुर का कोई पता नहीं है। छापरी खुर्द के पास पटवारी महेंद्र रजक की लाश नदी के बीच में मिली है। अवंतीपुरा के पास नदी और डैम के बीच कार फंसी हुई है। सूचना पर पुलिस पहुंच गई है। कार को नदी में निकालने का प्रयास किया जा रहा है।

MP में 4 लोग ट्रेन से कटेः पिता सहित तीन बच्चों की ट्रेन से कटकर मौत, आत्महत्या की आशंका, रेलवे पुलिस मौके पर पहुंची

बता दें कि पटवारी महेंद्र रजक और तहसीलदार नरेंद्र सिंह ठाकुर सोमवार देर रात से लापता थे। घर में खाना खाने की बात कहकर कार से बाहर निकले थे। जब वह सुबह तक नहीं लौटे तो परिजनों ने मंडी थाने में मंगलवार सुबह गुमशुदगी की रिपार्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने मामले में एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू की थी।

BIG NEWS: MP में तहसीलदार और पटवारी लापता, बीती रात घर से कार में बैठकर पार्टी करने निकले थे, अब तक नहीं मिला कोई सुराग

तहसीलदार नरेन्द्र सिंह ठाकुर मोहनपुर बढ़ोदिया तहसील में पदस्थ थे। साथ ही नरेन्द्र सिंह ठाकुर मध्यप्रदेश तहसीलदार संघ के अध्यक्ष भी थे। वहीं पटवारी महेन्द्र रजक नसरुल्लागंज तहसील में पदस्थ थे। सोमवार की रात को तहसीलदार और पटवारी अपने दोस्त महेन्द्र शर्मा और राहुल आर्य के साथ पार्टी करने रफीकगंज स्थित दोस्त तरुण सिंह के फार्म हाउस पर गए थे। तहसीलदार और पटवारी एक कार में सवार होकर निकले थे। सोमवार शाम तक नहीं लौटे थे। मंडी थाना पुलिस सर्चिंग में जुटी हुई थी।

MP में आजः बीजेपी की बड़ी बैठक आज, निकाय चुनाव में परफॉर्मेंस का होगा ऑडिट, कारम डैम के आपदा प्रबंधन में लगे पोकलेन ड्राइवर्स को सम्मानित करेंगे सीएम, प्रिकॉशन डोज नि:शुल्क लगाने के लिए वैक्सीनेशन महाअभियान

बुधवार सुबह अवंतीपुरा के पास नदी और डैम के बीच कार फंसी हुई मिली। लोगों ने पुलिस को नदी में कार होने की सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जब कार के अंदर देखा तो पटवारी महेन्द्र रजक की लाश मिली। वहीं तहसीलदार नरेंद्र सिंह ठाकुर कार में नहीं थे। पुलिस दोनों के नदी की बाढ़ में बहने से मौत का अंदेशा जता रही है।

Gwalior News: कृष्ण जन्माष्टमी पर ग्वालियर आएंगे UP के पूर्व सीएम अखिलेश यादव, कोटेश्वर मंदिर समारोह में होंगे शामिल, इधर कांग्रेस पार्षदों की क्रॉस वोटिंग की जांच के लिए टीम पहुंची

घटना वाले दिन करबला पुल पर चार फीट ऊपर पानी बह रहा था

जिले में बीते तीन दिनों से लगातार बारिश के कारण नदी नाले उफान पर थे। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि सोमवार की रात करबला पुल से करीब चार फीट ऊपर पानी बह रहा था। संभावना जताई जा रही है कि पार्टी करके लौट रहे तहसीलदार नरेन्द्र सिंह और पटवारी महेन्द्र रजक की कार इसी दौरान यहां से गुजरी होगी। पुल पर आए तेज बहाव के कारण संभवता कार पानी में बह गई। पानी का बहाव कम होने के कारण आज सुबह सर्चिंग दल को कार और उसमें सवार पटवारी महेन्द्र रजक का शव छापरीखुर्द के पास नदी में मिला।

MP में स्वास्थ्य व्यवस्था बदहाल: एंबुलेंस नहीं मिलने पर बेटा बीमार पिता को ठेले पर लेकर अस्पताल पहुंचा, VIDEO वायरल

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Related Articles

Back to top button