Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

मुंबई. बॉलीवुड अभिनेता और बीजेपी नेता मिथुन चक्रवर्ती से कोलकाता पुलिस पूछताछ कर रही है. ये पूछताछ भड़काऊ भाषण मामले में वर्चुअली की जा रही है. मिथुन चक्रवर्ती पर आरोप है कि उन्होंने भाषण के दौरान बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ असंवैधानिक भाषा का इस्तेमाल किया था.

बता दें कि बंगाल विधानसभा चुनाव में मिथुन चक्रवर्ती पर भड़काऊ भाषण देने का आरोप लगा है. जिसके बाद महानगर के माणिकतला थाने में उनके खिलाफ FIR दर्ज कराया गया है. माणिकतला पुलिस थाने में दर्ज FIR में दावा किया गया है कि सात मार्च को भाजपा में शामिल होने के बाद आयोजित रैली में चक्रवर्ती ने ‘‘मारबो एकहने लाश पोरबे शोशाने’ (तुम्हे मारूंगा तो लाश श्मशान में गिरेगी) और ‘ एक छोबोले चाबी’ (सांप के एक दंश से तुम तस्वीर में कैद हो जाओगे) संवाद बोले, जिसकी वजह से राज्य में चुनाव के बाद हिंसा हो गई थी.

इसे भी पढ़ें- भरभरा कर गिरी निर्माणधीन मकान की छत, 3 बच्चों की मौत, 6 लोग गंभीर रूप से घायल

चुनाव परिणाम घोषित हो जाने के एक माह बाद मिथुन चक्रवर्ती ने दर्ज FIR के खिलाफ कलकत्ता हाईकोर्ट में याचिका दायर की थीजिसमें उन्होंने FIR खारिज करने का अनुरोध किया गया था. इसके बाद कलकत्ता हाई कोर्ट ने मिथुन चक्रवर्ती को निर्देश दिया कि वह राज्य को अपना ई-मेल पता दें. ताकि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार के दौरान अपने भाषणों के जरिए चुनाव के बाद कथित तौर पर हिंसा भड़काने को लेकर दर्ज कराई गई शिकायत के सिलसिले में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए वह पूछताछ में शामिल हो सकें.

अभिनेता की याचिका पर सुनवाई करते हुए अदालत ने जांच अधिकारी को ये भी निर्देश दिया था कि वह मिथुन चक्रवर्ती को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए उपस्थित होने के लिए तर्कसंगत समय दें.

अपनी सफाई में क्या बोले मिथुन चक्रवर्ती

चक्रवर्ती ने FIR को रद्द करने के लिए उच्च न्यायालय में दायर याचिका में कहा कि उन्होंने केवल अपनी फिल्मों के संवाद बोले थे. गौरतलब है कि उनके खिलाफ भड़काऊ भाषण देकर चुनाव के बाद हिंसा भड़काने का मामला दर्ज किया गया है. इसी सिलसिले में आज कोलकाता पुलिस मिथुन से वर्चुअली पूछताछ कर रही है.