MP BIG BREAKING: कांग्रेस नेत्री नूरी खान ने इस बड़े नेता से बातचीत के बाद वापस लिया इस्तीफा, तो क्या ‘प्रदेश अध्यक्ष’ पर बात बन गई ?

राकेश चतुर्वेदी, भोपाल। प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष पद की दौड़ में शामिल रहीं तेज तर्रार महिला नेत्री नूरी खान ने अपने सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था. उन्होंने अपने इस्तीफे की जानकारी सोशल मीडिया के माध्यम से सोनिया गांधी, मुकुल वासनिक, वेणुगोपाल सहित प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ को टैगकर दी थी. इसके बाद कांग्रेस में हड़कंप मच गया था.

Breaking : प्रदेश अध्यक्ष नहीं बनाए जाने से नाराज कांग्रेस नेत्री नूरी खान ने दिया इस्तीफा

MP से अभी-अभी मिली खबर के मुताबिक कांग्रेस की महिला नेत्री नूरी खान ने पूर्व सीएम कमलनाथ से बातचीत करने के बाद इस्तीफा वापस ले लिया है. उन्होंने खुद फिर से सोशल मीडिया पर जानकारी दी है. जिस पर उन्होंने लिखा कि प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ से बातचीत औऱ उनके विश्वास के साथ मैं पार्टी को दिए इस्तीफे को वापस ले रही हूं.

नूरी खान की अगस्त क्रांति पदयात्रा पहुंची भोपाल, समापन पर कमलनाथ ने किया कार्यकर्ताओं संबोधित, कहा- BJP विभाजन की राजनीति कर रही है

बता दें कि कांग्रेस महिला नेत्री नूरी खान इसके पहले उन्होंने पार्टी पर अल्पसंख्यकों की अनदेखी के आरोप लगाए थे. उन्होंने कहा था कि प्रदेश के किसी भी अग्रिम संगठन में कोई भी अल्पसंख्यक अध्यक्ष नहीं है. पार्टी द्वारा सांप्रदायिक संगठनों से लडऩे की बात सिर्फ कागजों पर है.

उन्होंने कहा था कि काफी मेहनत के बाद भी वर्ग विशेष से होने की वजह से पार्टी में जिम्मेदार पद पर नहीं बैठाया गया. अगर मेरे साथ ये किया जा रहा है तो अन्य जिले के अल्पसंख्यक वर्ग के कार्यकर्ताओं के साथ कितनी उपेक्षा होती होगी सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है. नूरी खान ने सोशल मीडिया पोस्ट में नए राजनीतिक दल में जाने के संकेत दिए थे.

Read More : CM शिवराज पहुंचेे खेत, ट्विटर पर लिखा – हर किसान के खेतों में फसलें लहलहाएं, यही शुभेच्छा!

बताया जाता है कि वे प्रदेश महिला कांग्रेस के अध्यक्ष पद की दौड़ में शामिल थी। पार्टी द्वारा अर्चना जायसवाल को महिला कांग्रेस का अध्यक्ष बनाए जाने से वे नाराज चल रही थी।

Read More : BIG NEWS: पंचायत चुनाव को लेकर कोर्ट नहीं जाएगी कांग्रेस, Congress नेता अपने ही बयान से पलटे, कहा- जो कोर्ट जाएगा उसकी मदद करेंगे लेकिन खुद नहीं जाएंगे 

Nagaland Violence: अब तक 13 की मौत, राहुल गांधी ने लिखा- भारत सरकार जवाब दे, ओवैसी बोले- नॉर्थ ईस्ट में शांति नहीं, सिर्फ हिंसा

इसे भी पढे़ं : सुरक्षाकर्मी की काटी जा रही छुट्टियां, विरोध में परिवार के साथ बैठा धरने पर, जानिए क्या है मामला

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!