MP: बोरवेल में गिरे दीपेंद्र को पुलिस ने सुरक्षित बाहर निकाला, अब बच्चे के पिता और दादा पर दर्ज हुआ FIR

रणधीर परमार,छतरपुर।  मध्यप्रदेश के छतरपुर के नारायणपुरा गांव में बोरवेल में गिरे दीपेंद्र को सकुशल बाहर निकाल लिया गया. आज बोर को खुला छोड़ने वाले 2 व्यक्तियों के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया गया है. पुलिस ने दीपेंद्र के पिता अखिलेश यादव और दादा रमेश यादव के खिलाफ धारा 308 के तहत एफआईआर दर्ज किया है. पुलिस ने दोनों को दोषी माना है.

BIG BREAKING: दीपेंद्र को बोरवेल से सकुशल बाहर निकाला गया, करीब 7 घंटे तक चला रेस्क्यू

जानकारी के मुताबिक 29 जून को थाना ओरछा रोड़ क्षेत्र के ग्राम नारायणपुरा में रमेश यादव के खेत में बने खुले बोरवेल में उन्हीं का पोता दीपेन्द्र यादव गिर गया था. जिसके संकट उत्पन्न हो गई थी. जेसीबी मशीनों और पोकलेन मशीनों की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया. करीब 07 घंटे की रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद बच्चे को सकुशल बाहर निकाला गया. इसके बाद रेस्क्यू दल की सहायता से खेत में जेसीबी मशीनों द्वारा खोदे गये हिस्से को समतल कराया गया.

MP में कुदरत का कहर: आकाशीय बिजली गिरने से 10 वर्षीय बच्चे समेत 3 लोगों की मौत, एक बच्चा गंभीर रूप से घायल

आज सुबह गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बयान दिया था कि जो भी बोरवेल को खुला छोड़ेगा और उसकी वजह से कोई घटना होती है, तो हादसे में आई खर्च की वसूली बोर मालिक से की जाएगी. इसके साथ उस पर अपराध भी दर्ज किया जाएगा. जिसके बाद पुलिस ने अखिलेश यादव और रमेश यादव के खिलाफ धारा 308 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है. रमेश यादव बच्चे दीपेन्द्र यादव के दादा और अखिलेश यादव पिता है.

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Related Articles

Back to top button