Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

इंदौर में प्रेम प्रसंग के चलते युवती के परिजन ने युवक की तार से गला घोंटकर और पीट-पीटकर हत्या कर दी गई।उसके गले में आरोपियों ने शव को नदी के पास फेंककर फरार हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर आरोपियों की तालश शुरू कर दी है।

घटना इंदौर खुड़ैल थाना क्षेत्र के ग्राम बढ़िया कीमा की है जहां मंगलवार सुबह मालाखेड़ी नाले के पास एक अज्ञात शव मिला था। जिसकी की पहचान 21 वर्षीय विनोद चौहान निवासी बडिया कीमा के रूप में हुई। शनिवार रात युवक के परिजनों ने उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई थी। विनोद मजदूरी करता था।पूछताछ में पुलिस को पता चला कि विनोद का गांव की ही एक युवती से प्रेम-प्रसंग था। दोनों छुपछुप कर मिला भी करते थे, जिससे युवती के परिवार के लोग नाराज थे।

घटना की रात में युवक-युवती को युवती के परिवार वालों ने आपत्तिजनक हालत में देख लिया था। उसके बाद युवती के पिता-भाई और मां ने मिलकर विनोद को बड़ी बेरहमी से पीट-पीट कर हत्या कर दी और गांव से दो किलोमीटर दूर नदी के किनारे शव को फेंकर फरार हो गए। फिलहाल पुलिस ने तीनों पर हत्या का मामला दर्ज कर आरोपियों की तलश शुरू कर दी है।

वहीं मृतक के पिता ने बताया कि युवती ने उन्हें बताया कि आपके बेटे को मेरे घरवाले ले गए है उसे ढूंढों। जिसके बाद बेटे को बहुत ढूढ़े, लेकिन वह नहीं मिला और कल उसकी लाश मिली। वहीं युवती ने भी पुलिस को बताया कि विनोद को उसके घर वाले लेकर गए थे।

पहले किया अपहरण, फिर चाकू से किया हमला

इंदौर के विजय नगर में सिरफिरे प्रेमी ने चाकू की नोक पर युवती का अपहरण कर लिया और शादी से इनकार करने पर सिरफिरे ने युवती पर चाकू से हमलाकर दिया। बदमाश ने बीच-बचाव करने आए ढाबा संचालक पर भी चाकू से हमला किया। आरोपी हरदा का रहने वाला लिस्टेड बदमाश है। घायल युवती का उपचार अस्पताल में जारी है।

वीजा दिलाने के नाम पर 12 लाख की धोखाधड़ी, आरोपी गिरफ्तार

वहीं इंदौर में वीजा दिलाने के नाम पर 12 लाख की धोखाधड़ी करने वाले आरोपी को इंदौर क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने फरियादी से वीजा के लिए अलग-अलग सर्विस चार्ज के नाम पर पैसे मांग रहा था। इंदौर क्राइम ब्रांच ने दिल्ली से सूर्य प्रताप नामक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। आरोपी ने पुलिस वेरिफकेशन करवाने के लिए फरियादी को डीसीपी के मोबाइल नंबर का क्लोन बनाकर कॉल किया था। फिलहाल क्राइम ब्रांच उससे बारीकी से पूछताछ में कर रही है।

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus