सिस्टम वेंटिलेटर पर : कोरोना पीड़ित 30 वर्षीय युवक की अस्पताल में प्यास से तड़प-तड़प कर मौत! परिजनों ने लगाए आरोप, प्रबंधन ने कहा- होगी कार्रवाई

शब्बीर अहमद, भोपाल। कोरोना के इस भयावह दौर में लापरवाहियों की भी इंतेहां है। प्रदेश में बड़ी संख्या में लोगों की मौतें हो रही हैं। श्मशान घाट और कब्रिस्तान इसके गवाह हैं, जहां शवों के अंबार लगे हुए हैं। ऐसे मुश्किल वक्त में भी सरकारी व्यवस्थाएं ढर्रे पर है। कल एम्स अस्पताल में अपने पिता के लिए ऑक्सीजन की गुहार लगाते एक युवक का वीडियो आया था। वहीं आज हमीदिया अस्पताल में एक युवक की मौत पानी के लिए तड़प-तड़प कर हो गई, ये आरोप मृतक के परिजनों के हैं।

Close Button

मृतक युवक का नाम ऋषभ मिश्रा उम्र है। 30 वर्षीय इस युवक की रिपोर्ट पॉजीटिव आने के बाद इसे बीती शाम राजधानी के हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था। परिजनों का आरोप है कि ऋषभ की मौत होने से आधा घंटा पहले उनकी वीडियो कॉलिंग पर बात हुई थी। परिजनों का कहना है कि वीडियो कॉलिंग पर वो पीने के पानी के लिए गुहार लगा रहा था।

युवक की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल में जमकर हंगामा किया। परिजनों का आरोप था कि, हम ने उन्हें अस्पताल में मरीज के पास रहने देने के लिए कहा था ताकि वे उसकी देखभाल कर सकें लेकिन उन्हें उसके पास रहने नहीं दिया गया। अस्पताल में किसी तरह की कोई देखरेख नहीं की गई और ऋषभ की प्यास से तड़प-तड़प कर मौत हो गई।

अस्पताल में अव्यवस्थाओं को लेकर प्रबंधन पर इस तरह के आरोप कोई पहला नहीं है। इसके पहले भी प्रबंधन पर लगातार इस तरह लापरवाहियों के आरोप लगते रहे हैं।

इस मामले में हमीदिया अस्पताल के अधीक्षक लोकेन्द्र यादव ने lalluram.com से बातचीत में कहा कि उन्हें इस मामले की कोई जानकारी नहीं है। लल्लूराम डॉट कॉम ने उनके संज्ञान में इसे लाया है। आप मुझे भेज दीजिये, मैं जिम्मेदारों पर कार्रवाई करुंगा।

इसे भी पढ़ें

कोरोना के आगे सिस्टम फेल, एम्स में भर्ती पिता को ऑक्सीजन के लिए गुहार लगा रहा बेटा, दिखावे के लिए खाली सिलेंडर लगाने का आरोप

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।