Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

भोपाल। मध्यप्रदेश में आज त्रि-स्तरीय पंचायत के दूसरे चरण का मतदान जारी है. मतदान केंद्र के बाहर महिलाएं, पुरुष और युवा वोट करने के लिए उत्साह के साथ लंबी कतार लगाए खड़े हैं. इसी बीच चुनाव कार्य में लापरवाही बरतने पर पन्ना जिले में प्रधानाध्यापक को निलंबित कर दिया गया है. शहडोल जिले में चुनाव ड्यूटी के दौरान शराब पीकर निर्वाचन में लापरवाही बरतने वाले शिक्षक को भी सस्पेंड किया गया है. एमपी पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में सुबह 9 बजे तक 13% मतदान हुआ है. जिसमें 14% पुरुष, 12% महिला, 3.7 % अन्य मतदाताओं ने मतदान किया है. सबसे ज्यादा रातलम में 15.9 % वोटिंग हुई है.

चुनाव कार्य में लापरवाही, प्रधानाध्यापक निलंबित

पन्ना कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी संजय कुमार मिश्र ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव अंतर्गत निर्वाचन कार्य में असहयोग करने और बाधा उत्पन्न करने पर मनकी के प्रधानाध्यापक ब्रजेश सेन को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है. निलंबन अवधि में प्रधानाध्यापक का मुख्यालय जिला निर्वाचन कार्यालय निर्धारित किया गया है.

MP पंचायत चुनाव LIVE: दूसरे चरण के लिए 47 जिलों में मतदान जारी, 1.31 करोड़ वोटर चुनेंगे ‘गांव की सरकार’, सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम

ड्यूटी में शराब पीकर पहुंचा शिक्षक निलंबित

शहड़ोल जिले में त्री- स्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान बड़ी लापरवाही सामने आई है. चुनाव ड्यूटी के दौरान शराब पीकर निर्वाचन में लापरवाही बरतने वाले जुगवारी स्कूल में पदस्थ शिक्षक नर्मदा प्रसाद कोल को निलंबित कर दिया गया है. शिक्षक ने शराब पीकर लोगों से गलत व्यवहार किया है. शासकीय प्राथमिक विद्यालय अमझोर मतदान केंद्र के पी-2 में चुनाव निरीक्षण करने गए अपर कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने बड़ी लापरवाही पाई. ड्यूटी में तैनात पुलिसकर्मियों ने निर्वाचन अधिकारी से शिकायत की थी.

मध्यप्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में होने वाले मतदान को लेकर एमपी के अंतिम छोर पर बसे जावद विधानसभा के खोर मतदान केंद्रों पर अलसुबह से ही मतदाताओं की लंबी कतारें देखने को मिली है. महिलाएं, पुरुष और युवा बड़ी संख्या में मतदान करने मतदान केंद्रों पर पहुंचे. अपने मत का प्रयोग किया. वही संवेदनशील क्षेत्रों में भी पुलिस द्वारा लगातार पेट्रोलिंग की जा रही है.

सरकारी दावों की खुली पोल: सड़क न होने से ट्रैक्टर-ट्रॉली में बैठकर मतदान केंद्र तक पहुंचे मतदान कर्मी

3580 मतदान केंद्र संवेदनशील

दूसरे चरण में 47 जिलों के 106 जनपद पंचायतों की 7655 ग्राम पंचायतों में 23 हजार 967 मतदान केंद्र हैं. इनमें से 3580 मतदान केंद्र संवेदनशील हैं. दूसरे चरण में जिला पंचायत सदस्य के 291, जनपद पंचायत सदस्य के 2283, सरपंच पद के 7655 और पंच पद के 1 लाख 22 हजार 146 पद हैं.

वहीं कुछ पदों में निर्विरोध निर्वाचन के बाद वास्तविक निर्वाचन के लिए पदों की संख्या जिला पंचायत सदस्य के लिए 291, जनपद पंचायत सदस्य के लिए 2227, सरपंच पद के लिए 7373 और पंच पद के लिए 22 हजार 451 है.

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus