whatsapp

Satna Gaurav Diwas: CM शिवराज ने 400 करोड़ के विकास कार्यों की दी सौगात, नगर का गौरव बढ़ाने वालों का किया सम्मान, कहा- सतना के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे

वेंकटेश द्विवेदी, सतना। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh) सतना गौरव दिवस (Satna Gaurav Diwas) कार्यक्रम में शामिल हुए। जहां उन्होंने अपने कार्यों के जरिए सतना नगर का गौरव बढ़ाने वालों का सम्मान किया। इसके साथ ही 400 करोड़ के विकास कार्यों की सौगात दी। इस दौरान उन्होंने कहा कि सतना (Satna) के विकास में सरकार कोई कसर नहीं छोड़ेगी।

दरअसल, बुधवार को सीएम शिवराज सिंह सतना के मैहर (Maihar) पहुंचे। जहां उन्होंने अपनी धर्मपत्नी साधना सिंह (Sadhna Singh) के साथ मां शारदा देवी (Maa Sharda Temple) के दर्शन कर विधि-विधान से पूजा-अर्चना की। उन्होंने मंदिर परिसर में स्थित काल भैरव और मां शारदा की अखण्ड ज्योति के दर्शन भी किए। इस दौरान पंचायत एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री रामखेलावन पटेल (Ramkhelawan Patel), नगर पालिका अध्यक्ष सोनी भी मौजूद रहीं।

MP की सबसे बड़ी अक्षय पात्र रसोई का शुभारंभ: मेगा किचन से 900 स्कूल के 50 हजार बच्चों को मिलेगा लाभ, CM शिवराज बोले- पौष्टिक भोजन देने सरकार और समाज मिलकर काम करें

इसके बाद सीएम शिवराज सिंह सतना के बीटीआई मैदान (BTI Ground) में आयोजित गौरव दिवस (Gaurav Diwas) कार्यक्रम में शामिल हुए। सबसे पहले CM ने कन्या पूजन किया, वंदे मातरम का गायन किया और दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम की शुरुआत की। स्वागत की शुरुआत में ही मुख्यमंत्री ने कहा कि आज सतना का गौरव दिवस है, इसलिए मुख्यमंत्री का नहीं बल्कि उनका स्वागत-सम्मान होना चाहिए, जिन्होंने सतना का गौरव बढ़ाया। इसके बाद सीएम चौहान ने अपने कार्यों के जरिए सतना नगर का गौरव बढ़ाने वालों का सम्मान किया।

वहीं मुख्यमंत्री शिवराज ने 350 करोड़ के विकास कार्यों का शिलान्यास और 50 करोड़ के विकास कार्यों का लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि सारे काम सरकार नहीं कर सकती जनता को भी कुछ करना होगा। इसके लिये वे अपने पैतृक गांव जैत का उदाहरण देकर समझाया। विंध्य की राजनीति को साथ साधते हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि इंदौर इन्वेस्टर मीट (Investor Meet) में विंध्य क्षेत्र के लिए निवेशकों ने 2 लाख 89 हजार करोड़ के एमओयू साइन हुए हैं। अब विंध्य के विकास को कोई नहीं रोक सकता। मैहर मां शारदा, गैबीनाथ रामबन और चित्रकूट का जिक्र करते हुए सीएम ने भाषण को धार्मिक एंगल भी दिया। चित्रकूट में रामलोक बनाने, सतना में मेडिकल कालेज और नया एनीकट बनाने की घोषणा की।

केजरीवाल के महंगाई वाले बयान पर MP में सियासत: कांग्रेस बोली- ये भाजपा सरकार की नाकामी, BJP ने पलटवार में कहा- दिल्ली एक जिले के बराबर, इसलिए बिजली सस्ती

सीएम शिवराज ने कहा कि सतना पवित्र शहर है। यहां चित्रकूट धाम, मां शारदा का मंदिर, भगवान शिव का गैवीनाथ मंदिर, मां कालका का प्रसिद्ध मंदिर है। सतना के विकास में सरकार कोई कसर नहीं छोड़ेगी। कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री समरसता भोज में भी शामिल हुए। मीडिया से बात करते हुए कहा कि सतना के समाजसेवी आगे आकर जिस तरह विकास की गाथा लिख रहे हैं, निश्चित तौर पर काबिले तारीफ है। अब सतना को आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता।

बता दें कि सतना नगर पालिक निगम का गठन 25 जनवरी 1981 को हुआ था। इसलिए सतना नगर का गौरव दिवस भी अब हर वर्ष 25 जनवरी को मनाया जाएगा।

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Related Articles

Back to top button