MP के मुफ्ती-ए-आजम ने ईद मिलाद उन-नबी का त्योहार घरों में रहकर मनाने की अपील, कहा- कोविड गाइडलाइन का करें पालन

कुमार इंदर, जबलपुर। मुफ्ती-ए-आजम मध्यप्रदेश मौलाना हजरत मोहम्मद हामिद अहमद सिद्दीकी ने कोरोना संक्रमण और सबके स्वास्थ्य को देखते हुए इस बार भी ईद मिलाद-उन-नबी का त्यौहार घरों एवं मोहल्ले में रहकर मनाने की अपील की है. मौलाना ने मुस्लिम समाज के लोगों से शासन की गाइडलाइन का पालन करते हुए त्यौहार मनाने की अपील की है.

जुलूस की शक्ल में न निकलने की अपील

मुफ्ती-ए-आजम ने शहर और प्रदेशवासियों को मिलाद-उन-नबी की दिली मुबारकबाद देते हुए कहा है कि कोरोना संक्रमण में आई कमी को देखते हुए इस बार त्यौहारों को मनाने के लिए पिछले वर्ष के मुकाबले कुछ ज्यादा छूटें मिली हैं. इन छूटों को ध्यान में रखकर ही हमें ईद मिलाद-उन-नबी का त्यौहार मनाना होगा. हम इस त्यौहार को पूरे उत्साह के साथ अपने घर एवं मोहल्ले में मनाएं. उन्होंने कहा कि अकीदत और मोहब्बत का इजहार करें एवं एक दूसरे को मुबारक बाद दें, लेकिन कहीं भी जुलूस की शक्ल में न निकलें.

अगले साल पूरे जोश- खरोश से ईद मानने की उम्मीद

मुफ्ती-ए-आजम मौलाना मोहम्मद हामिद अहमद ने कोरोना संक्रमण में लगातार आ रही कमी को देखते हुए उम्मीद जताई है कि यही स्थिति रही तो अगले साल हम मिलाद-उन-नबी का त्यौहार उसी जोश और जज्बे से मनायेगें जैसे कोरोना की लगने के पहले मनाया करते थे. उन्होंने कोरोना वायरस की बीमारी से देश को पूरी तरह निजात दिलाने की दुआ करने का आग्रह भी मुस्लिम समाज के लोगों से किया है.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।