नगरीय निकाय चुनाव : राजनीतिक दलों के साथ चर्चा में ओनो सॉफ्टवेयर के साथ हुई कोविड पर चर्चा…

सत्यपाल सिंह राजपूत, रायपुर। नगरीय निकाय चुनाव के मद्देनजर राज्य निर्वाचन आयोग की राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक हुई. इस दौरान नाम निर्देशन पत्र दाखिल करने के लिए तैयार ओनो सॉफ्टवेयर के साथ चुनाव के दौरान कोविड 19 गाइडलाइन का अनिवार्य रूप से पालन को लेकर चर्चा हुई.

नगरीय निकायों में आम एवं उप निर्वाचन के लिए 20 दिसंबर मतदान और 23 दिसंबर को मतगणना होगी. लोकतंत्र के इस पर्व के मद्देनजर नवा रायपुर के निर्वाचन भवन में राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों से आदर्श आचरण संहिता, नगरीय निकाय निर्वाचन के लिए नियमों एवं दिशा निर्देशों और कोविड 19 गाइडलाइन के परिपालन के संबंध में विस्तार से चर्चा की.

बैठक में निर्वाचन आयुक्त ने कहा कि  महामारी के इस दौर में हम सब की नैतिक जिम्मेदारी है कि हम एक-दूसरे की सुरक्षा का ख्याल रखें. इसके लिए उन्होंने राजनीतिक दल के प्रतिनिधियों से चुनाव के दौरान कोविड-19 गाइडलाइन के अनिवार्य पालन पर जोर देने को कहा. उन्होंने कहा कि चुनाव में शामिल होने वाले अभ्यर्थी प्रस्तावक, पोलिंग एजेंट एवं अन्य कार्यकर्ता फुली वैक्सीनेटेड हों. यदि इस दौरान किसी भी व्यक्ति को सर्दी, बुखार  या कोविड से जुड़े कोई भी लक्षण नजर आए तो अतिरिक्त सावधानी बरतें.

ऑनलाइन नॉमिनेशन है अनिवार्य

ठाकुर राम सिंह ने बताया कि इस बार नाम निर्देशन पत्र दाखिल करने के लिए ऑनलाइन व्यवस्था को अनिवार्य किया गया है. अभ्यर्थी राज्य निर्वाचन आयोग की  वेबसाइट www.cgsec.gov.in में ओनो सॉफ्टवेयर (ONNO) के माध्यम से ऑनलाइन नाम निर्देशन पत्र दाखिल कर सकते हैं. निर्वाचन आयोग के उप सचिव दीपक कुमार अग्रवाल ने ONNO के उपयोग एवं तकनीकी बारीकियों के बारे में राजनीतिक दल के प्रतिनिधियों को विस्तार से जानकारी दी. इस दौरान ओनो साफ्टवेयर से जुड़े प्रश्न भी प्रतिनिधियों ने पूछे, जिसका समाधान किया गया.

राजनीतिक दलों ने की ओनो की सराहना

उप सचिव दीपक अग्रवाल ने बताया कि ओनो के माध्यम से नाम निर्देशन पत्र दाखिल करने पर गलतियों की संभावना न के बराबर हो जाती है, उन्होंने बताया कि वेबसाइट में अभ्यर्थियों के लिए विस्तृत चेक लिस्ट भी दी गई है. यह चेक लिस्ट बहुत उपयोगी है. पार्षद पद के उम्मीदवारों को नाम निर्देशन पत्र भरने के पहले यह चेक लिस्ट डाउनलोड कर अच्छी तरह पढ़ लेंगे तो वे बड़ी सरलता से ऑनलाइन नॉमिनेशन दाखिल कर सकेंगे. बैठक में आए राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों ने छत्तीसगढ़ राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा किए गए इस नवाचार की सराहना करते हुए कहा कि इससे काफी सरलता और पारदर्शिता के साथ नाम निर्देशन पत्र दाखिल किए जा सकेंगे.

इन दलों से प्रतिनिधि हुए शामिल

बैठक में भारतीय जनता पार्टी, इंडियन नेशनल कांग्रेस, बहुजन समाजवादी पार्टी, समाजवादी पार्टी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस पार्टी से प्रतिनिधि शामिल हुए थे.

Read more : Is Crypto Looming? Panic Rises after Govt Lists Bill with Few Exceptions 

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!