दिल्ली में सिद्धू की बैठक, बोले, ‘मुझे विश्वास है हित में फैसला होगा’

सिद्धू के इस्तीफे पर जल्द हो सकता है फैसला

नई दिल्ली। पंजाब में जारी गतिरोध के बीच गुरुवार को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू दिल्ली पहुंचे. कांग्रेस मुख्यालय में संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल और प्रभारी हरीश रावत से उन्होंने मुलाकात की. कांग्रेस हाईकमान के निर्देश पर सिद्धू करीब 6: 30 पर दिल्ली पहुंचे और दोनों नेताओं के साथ बैठक की. दरअसल सिद्धू के इस्तीफे के बाद यह दिल्ली में पहली बैठक हुई है. जिस तरीके से नवजोत सिंह सिद्धू ने इस्तीफा दिया, उनके रवैये से गांधी परिवार नाराज है. यही वजह है कि उन्हें दिल्ली बुलाया गया.

कपूरथला: शहीद JCO जसविंदर का पैतृक गांव में सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार, मां ने कहा- पोते को बड़ा होते ही फौज में भेजूंगी

 

सूत्रों के अनुसार बैठक में पंजाब कांग्रेस से संबंधित संगठनात्मक मामलों पर चर्चा हुई, साथ ही पिछले दिनों दिए गए सिद्धू से उनके इस्तीफे प्रकरण पर निर्णायक बातचीत की गई.

बैठक के बाद सिद्धू ने कहा, मेरे जो भी मुद्दे थे, मैंने पार्टी हाईकमान को बता दिया है, मुझे पूरा भरोसा है कि प्रियंका जी, राहुल जी मेरी बातों को समझेंगे और मुझे उनके निर्णय पर विश्वास है. वे जो भी फैसला लेंगे, वह कांग्रेस और पंजाब के हित में होगा.

सिद्धू का इस्तीफा स्वीकार कर सकता है कांग्रेस आलाकमान

 

वहीं पंजाब प्रभारी हरीश रावत ने कहा, नवजोत सिंह सिद्धू और सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने कुछ मुद्दों पर बात की है, समाधान निकलेगा. कुछ चीजें हैं, जिनमें समय लगता है. थोड़ा इंतजार करना होगा, समाधान जल्द ही निकलेगा.’

सूत्रों की मानें तो कांग्रेस नेतृत्व कार्यसमिति की 16 अक्टूबर को होने वाली बैठक से पहले पंजाब की उठापटक के अध्याय को पूरी तरह खत्म करना चाहता है. फिलहाल पार्टी नेतृत्व ने मन बना लिया है कि सिद्धू अपनी जिद छोड़कर, अड़ियल रवैया त्याग कर, लचीला रुख अपनाने में देरी करेंगे, तो उनके विकल्प पर फैसला करने में देरी नहीं की जाएगी.

 

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।