मुठभेड़ में बरामद IED के जखीरे से 100 बड़े विस्फोट को अंजाम दे सकते थे नक्सली, कैम्प ध्वस्त कर फोर्स ने 10 नक्सलियों को किया था ढेर

रायपुर। नक्सली कैम्प ध्वस्त कर पुलिस फोर्स ने कई बड़ी घटनाओं को अंजाम देने से ही पहले विफल कर दिया. फोर्स ने नक्सली कैम्प से बड़ी मात्रा में आईईडी विस्फोटकों का जखीरा बरामद किया है. बताया जा रहा है कि इससे 100 जगहों पर बड़े विस्फोट कर बड़ी मात्रा में जान-माल की तबाही की जा सकती थी.

बीजापुर के भैरमगढ़ थाना क्षेत्र के माड़ इलाके में गुरुवार को फोर्स और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई. इंटेलीजेंस को फोर्स से सूचना मिली थी कि अबुझमाड़ इलाके में बड़ी संख्या में नक्सली मौजूद हैं. सूचना के बाद डीआरजी और एसटीएफ की संयुक्त टीम ने कार्रवाई करते हुए 10 नक्सलियों को मार गिराया और सर्चिंग में उन्हें उनके पास से 11 हथियार और आईईडी विस्फोटकों का जखीरा बरामद हुआ.

मामले में डीजीपी डीएम अवस्थी ने प्रेसवार्ता लेकर पूरे मामले का खुलासा किया. उन्होंने बताया कि इंटेलीजेंस के पास तीन दिन पहले सूचना आई थी. जिसके आधार पर रणनीति बनाकर फोर्स ने एक बड़े ऑपरेशन को अंजाम दिया है. इस पूरे मुठभेड़ में 200 जवानों ने हिस्सा लिया. उन्होंने बताया कि आज सुबह नक्सलियों से फोर्स की दो बार मुठभेड़ हुई. दोनों ही मुठभेड़ में रुक-रुक कर दोनों तरफ से गोलीबारी होती रही.

तीन साल में 575 मुठभेड़

डीजीपी डीएम अवस्थी ने बताया कि पिछले तीन साल में माओवादी और पुलिस के बीच 575 मुठभेड़ हुई है. जिसमें 3150 माओवादियों को गिरफ्तार किया गया है. इस दौरान 818 हथियार माओवादियों से बरामद हुए हैं. इसके साथ ही फोर्स ने 30 लैंडमाइंस भी बरामद किया है.

 

विज्ञापन

survey lalluram
Close Button
Close Button
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।