whatsapp

मदद की दरकार: 11 माह के मासूम को जानलेवा बीमारी, पहले भी इसी बीमारी से जा चुकी है बहन की जान, कलेक्टर ने दिलाया आर्थिक सहयोग का भरोसा

समीर शेख, बड़वानी। गंभीर बीमारी से पीडि़त 11 माह के मासूम को मदद की दरकार है। डॉक्टरों ने उनके उपचार पर लाखों रुपए खर्च बताया है। उनके परिजन की आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं कि उनके उपचार में लाखों रुपए खर्च कर सके। परिजन ने शासन-प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है। सरकार से आर्थिक मदद मिलने से मासूम की जान बच सकती है। मासूम गोचर डिसीस नामक बीमारी से पीडि़त बताया जाता है। परिजनों की मांग पर कलेक्टर ने शासन स्तर से चर्चा कर मदद का भरोसा दिलाया है।

बड़वानी जिले के राजपुर विकासखंड के ग्राम तलवाड़ा डेब में 11 माह का बिलाल पिता शरीफ जानलेवा बीमारी गोचर डिसीस से पीडि़त है। दादी की गोद में बैठा ये मासूम जिस बीमारी से लड़ रहा है, इसी बीमारी से लड़ते लड़ते पहले भी इसकी बहन दुनिया को अलविदा कह चुकी है। बिलाल की दादी वहीदा ने बताया कि डाक्टरों ने उपचार में 20 लाख का खर्च बताया है। अभी जो इंजेक्शन मासूम को दिए जा रहे हैं उसकी कीमत एक लाख से अधिक में है। इस इंजेक्शन को विदेश से मंगवाया जा रहा है।

Read More : बेरोजगारी ने ली जानः युवती ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, इंजीनियरिंग करने के बाद 2 साल से थी बेरोजगार 

उनकी आर्थिक स्थिति ऐसी है नहीं है कि मासूम बिलाल का उपचार करवाया जा सके। ऐसे में अगर मदद मिल जाये तो बिलाल को नया जीवन मिल जाएगा। वहीं इस मामले में कलेक्टर शिवराज सिंह वर्मा का कहना है पूर्व में उनके पास ये मामला आया था। उन्होंने सीएमएचओ के पास भेजा था। इस बीमारी का इलाज कहा होगा फिलहाल यह जानकारी नहीं है। शासन की योजनाएं है जितनी संभव हो सके मदद की जाएगी। परिजन आते हैं तो शासन स्तर पर क्या किया जा सकता है बात करूंगा। किस योजना में किस तरह से लाभ दिया जा सकता है क्योंकि उपचार में राशि अधिक लगेगी ऐसे में शासन स्तर पर ही बात कर लाभ दिया जा सकेगा।

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Related Articles

Back to top button