मारिया रेसा और दिमित्री मुरातोव को मिला शांति का नोबल पुरस्कार, जानिए क्या है उपलब्धि…

स्टाकहोम। इस साल का शांति का नोबेल पुरस्कार फिलीपींस की मारिया रेसा और रूस के दिमित्री मुरातोव को दिया गया है. मारिया और दिमित्री दोनों पेशे से पत्रकार हैं. यह सम्मान अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की रक्षा के लिए दिया गया है.

पुरस्कार की घोषणा करते हुए नोबेल कमेटी की अध्यक्ष बेरिट रीस-एंडरसन ने कहा कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता, लोकतंत्र और स्थायी शांति के लिए किए गए प्रयासों को देखते हुए इन्हें सम्मानित किया गया है. नोबेल कमेटी ने कहा है कि इन दोनों को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की रक्षा के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया जा रहा है, क्योंकि बोलने की आजादी ही लोकतंत्र और स्थायी शांति की पहली शर्त है.

इसे भी पढ़ें : बिना लाइसेंस के बेच रहा था कीटनाशक दवाइयां, कृषि विभाग ने मारा छापा, दुकान किया सील… 

कौन हैं मारिया रेसा और दिमित्री मुरातोव

मारिया रेसा न्यूज साइट रैप्लर की को-फाउंडर हैं. उन्होंने 2012 में इसकी स्थापना की थी. रेसा ने अपने देश में सत्ता के दुरुपयोग और तानाशाही के खिलाफ अभिव्यक्ति की आजादी के लिए आवाज उठाई थी. वहीं दिमित्री मुरातोव भी एक पत्रकार हैं. उन्होंने रूस में नोवाजा गजेटा नाम के न्यूज पेपर की शुरुआत की थी. वो देश में फ्रीडम ऑफ स्पीच की रक्षा के लिए सालों से काम कर रहे हैं.

Read more : Drug Peddling Racket Busted; 5 Accused Nabbed 

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।