whatsapp

MP में नर्स भर्ती पेपर लीक मामला: सेम्स कंपनी पर नर्सिंग समेत कई विभागों की परीक्षा कराने की है जिम्मेदारी, अब सवालों के घेरे में कंपनी

शब्बीर अहमद,भोपाल। मध्यप्रदेश नेशनल हेल्थ मिशन (Madhya Pradesh National Health Mission) की संविदा स्टाफ नर्स भर्ती परीक्षा का पेपर लीक हो गया है. ग्वालियर क्राइम ब्रांच पुलिस ने पेपर बेचने वाले 8 आरोपियों को हिरासत में लिया है. राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (NHM) की परीक्षा रद्द कर दी गई है. इस परीक्षा को कराने की जिम्मेदारी सेम्स कंपनी (Sems Company) को दी गई थी.

पेपर लीक होने के बाद सेम्स कंपनी (Sems Company) अब सवालों में घिरे में हैं. इस कंपनी के पास मध्यप्रदेश में और भी परीक्षा करवाने की जिम्मेदारी मिली है. दिल्ली के जिस कंपनी को मध्यप्रदेश में नर्सिंग डिपार्टमेंट में भर्ती कराने के लिए ठेका दिया है. उसके पास उत्तर प्रदेश, त्रिपुरा सहित कई अन्य राज्यों में परीक्षा करने की जिम्मेदारी है. एमपी में नर्सिंग के अलावा कई अन्य विभागों में भी दिल्ली की कंपनी के पास परीक्षा कराने का टेंडर है.

MP स्टाफ नर्स भर्ती परीक्षा का पेपर लीक! क्राइम ब्रांच ने 7 आरोपियों को पकड़ा, परीक्षा स्थगित,नाराज अभ्यर्थियों ने किया हंगामा

बता दें कि नेशनल हेल्थ मिशन (NHM) ने स्टाफ नर्स के लिए 2284 रिक्त पदों पर भर्ती निकाली थी. करीब 50 हजार आवेदकों ने भर्ती के लिए आवेदन किया है. प्रदेश भर के अलग-अलग कॉलेजों एग्जाम हो रहे थे, लेकिन पेपर लीक होने के बाद राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन ने पेपर कैंसिल होने का आदेश जारी कर दिया.

MP में नर्स भर्ती पेपर लीक मामले में सियासत: नेता प्रतिपक्ष ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- माफिया और सरकार के बीच गठजोड़, 1 महीने के अंदर हो एग्जाम

इसका खुलासा तब हुआ जब ग्वालियर क्राइम ब्रांच ने नेशनल हेल्थ मिशन की नर्सिंग परीक्षा का पेपर बेचने वाले गिरोह के 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया. आरोपियों में 3 ग्वालियर के, 2 उत्तरप्रदेश के, 2 हरियाणा के और एक आरोपी बिहार का शामिल है. 80 परीक्षार्थियों से सौदा किया था. प्रत्येक परीक्षार्थी से 2 से 3 लाख रुपए में सौदा हुआ था.

आरोपी नर्सिंग परीक्षा का पेपर 15 लाख रुपए में बेचे थे. इनके लोकल सहयोगियों को भी पकड़ा गया है. क्राइम ब्रांच टीम ने परीक्षा के दौरान पेपर सॉल्व कराते हुए 15 लड़कियों और 11 लड़कों को भी पकड़ा है. पकड़े गए गिरोह से की गई प्रारम्भिक पूछताछ में ज्ञात हुआ कि उनके तार प्रदेश के बड़े जिलों भोपाल, इन्दौर, जबलपुर, सागर से जुड़े हुए हैं.

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Related Articles

Back to top button