करोड़ रुपए जब्त होने का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाए बुजुर्ग व्यापारी, दिल का दौर पड़ने से हुई मौत…

नई दिल्ली. चुनाव के मौसम में कारोबारियों की शामत आ गई है. नेताओं के साथ-साथ आयकर विभाग कारोबारियों पर भी टेढ़ी नजर लगाए हुए हैं. विभाग की सख्ती की वजह से खून-पसीने की कमाई गंवाने के सदमे में खारी बावली के बुजुर्ग मसाला कारोबारी की हार्ट अटैक से मौत हो गई.

दरअसल, दिल्ली के वसंत विहार में पुलिस चेकिंग के दौरान एक बीएमडब्ल्यू कार से एक बैग में एक करोड़ रुपए मिले. कार में सवाल जोरबाग में रहने वाले मसाला व्यवसायी अजय गुप्ता रुपयों से संबंधित दस्तावेज पेश नहीं कर पाए. इसके बाद आयकर विभाग ने पूरी रकम वसंत विहार थाने के मालखाने में जमा करा जांच शुरू कर दी थी. हालांकि, इस रकम को लेकर मसाला कारोबारी 83 वर्षीय मसाला कारोबारी रतनलाल गुप्ता और उनके बेटे अजय गुप्ता ने ब्लैकमनी नहीं होने की बात कहते हुए अधिकारियों को सहयोग करने का आश्वासन दिया, लेकिन आयकर विभाग के अधिकारी उनके दुकान पहुंचकर दस्तावेजों लेकर चले गए.

इतनी बड़ी रकम जब्त होने का सदमा ‘इलायची वाले’ के नाम से मशहूर रतनलाल गुप्ता बर्दाश्त नहीं कर पाए और उन्हें दिल का दौरा पड़ गया. परिजन उन्हें तत्काल नजदीकी अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. बुजुर्ग व्यापारी की मौत के बाद गुरुवार को खारी बावली के थोक व्यापारी अपनी दुकानें बंद कर उनके अंतिम संस्कार में शामिल हुए. कारोबारियों ने बताया कि गुप्ता दान देने के मामले में भी आगे रहते थे. कुछ कारोबारियों ने कहा कि चुनाव के चलते थोक कारोबारियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. इस मसले पर चुनाव आयोग से भी मुलाकात की जा चुकी है, लेकिन समस्या का समाधान नहीं निकला.

विज्ञापन

Close Button
Close Button
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।