GROUND REPORT: बुरहानपुर से लगे महाराष्ट्र पहुंचा ‘ओमीक्रोन’, Maharashtra से आने वाले यात्रियों की नहीं हो रही जांच, पुणे से हर दिन सैंकड़ों यात्री करते हैं आना-जाना

मौसीम तड़वी, बुरहानपुर। कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ‘ओमीक्रोन’ (Coronavirus New Variant Omicron ) को लेकर पूरी दुनियां में हड़कंप मचा हुआ है। वैज्ञानिकों ने हाल के दिनों में विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) को इसे लेकर सतर्क किया। कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ‘ओमीक्रोन’ संक्रमित मरीजों की संख्या देश में तेजी से बढ़ रही है। बुरहानपुर से लगे महाराष्ट्र में भी ‘ओमीक्रोन’ संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही है। पुणे में कोरोना नए वेरियंट ओमीक्रोन के 7 मरीज मिल चुके हैं। बावजूद इसके बुरहानपुर जिला प्रशासन जिले और मध्यप्रदेश में ओमीक्रोन को रोकने के लिए कोई सावधानी नहीं बरत रहा है। 

 

बुरहानपुर से लगी महाराष्ट की तीन सीमाओं पर जिला प्रशासन गंभीर नहीं है। महाराष्ट से आने वाले यात्रियों की जांच नहीं हो रही है। यात्री बेरोक-टोक आराम से एक राज्य से दूसरे राज्य जा रहे हैं। जबकि पुणे से रोजाना सैकड़ों यात्री बसों से बुरहानपुर आना-जाना करते हैं।

बुरहानपुर के सीमावर्ती जिले जलगांव, बुलढाणा और अमरावती की सीमाओं पर स्वास्थ विभाग की टीमें मौजूद नहीं है। महाराष्ट्र से मध्य प्रदेश की सीमा में लोग प्रवेश कर रहे हैं। इसके कारण महाराष्ट्र के रास्ते कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोन के जिले में पहुंचने का  खतरा बढ़ गया है।

सीएम शिवराज ओमीक्रोन पर खुद रख रहे नजर 

बता दें कि  ‘ओमीक्रोन’ के खतरे को देखते हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने पिछले दिनों बड़ी बैठक की थी। प्रदेश में  ‘ओमीक्रोन’ को आने से रोकने के लिए कई निर्णय लिए थे। राज्य सरकार ने महाराष्ट्र में ओमीक्रोन पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद सीमा से सटे जिलों में अलर्ट जारी किया था। बावजूद इसके बुरहानपुर जिला प्रशासन (Burhanpur District Administration) और स्वास्थ्य विभाग (health Department) सावधानी नहीं बरत रहा है।

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!