विधायक भीमा मंडावी की हत्या पर गरमाई सियासत, कौशिक ने कहा- शहरी नक्सली के चलते हुए हत्या, सीएम बघेल ने मांगे तथ्य

रायपुर. नक्सली हमले में शहीद हुए जवानों और भाजपा विधायक भीमा मंडावी के पार्थिव देह को श्रद्धांजली देने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दंतेवाड़ा से राजधानी रायपुर वापस लौट आए हैं. वापस लौटने के बाद मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि दंतेवाड़ा में सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की, अधिकारियों को निर्देश दिए कि मतदान शांतिपूर्ण और निष्पक्ष ढंग से संपन्न हो. सुरक्षा को लेकर भी निर्देश दिए गए हैं कि मतदान दल और आम जनता सुरक्षित ढंग से मतदान कर सके.

भूपेश बघेल ने बीजेपी के विधानसभा में नेता धरमलाल कौशिक के शहरी नक्सली के बयान पर कहा कि अगर उनके पास तथ्य हैं तो सामने रखें. भूपेश बघेल ने बीजेपी नेताओं की सीबीआई जांच की मांग पर भी कहा कि बीजेपी ने अभी तक ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं दिया है. अगर प्रस्ताव देते हैं तो इस पर वो विचार करेंगे. कौशिक के इस बयान पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उन्हें नसीहत दी है कि ये वक्त राजनीति करने का नहीं है.

भूपेश बघेल ने बताया कि दिवंगत विधायक भीमा मंडावी को पर्याप्त सुरक्षा उपलब्ध कराई गई थी. पुलिस के निर्देशों को नहीं मानने की वजह से यह दुर्भाग्य जनक घटना हुई है.

गौरतलब है कि बीजेपी के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने भीमा मंडावी पर हुए हमले को शहरी नक्सली नेटवर्क का नतीजा बताया है. कौशिक का आरोप है कि जब से कांग्रेस सत्ता में आई है. नक्सली शहर की ओर बढ़ रहे हैं. उन्होंने कहा कि बीजेपी को टारगेट किया जा रहा है. कौशिक का आरोप है कि सरकार ने विधायकों की सुरक्षा हटा ली है. कौशिक का कहना है कि रमन सिंह ने अपने कार्यकाल में नक्सलियों का आतंक खत्म कर दिया था.

 

विज्ञापन

Close Button
Close Button
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।