बीजेपी के आरोप पर मंतूराम पवार ने कहा- माफी मांगे नहीं तो प्रमुख नेताओं के नाम पर करूंगा मानहानि का मुकादमा

रायपुर। बीजेपी के शिकायती आरोप पर मंतूराम पवार ने कहा कि भाजपा के जो नेता थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाने पहुंचे है, वो मुझसे माफी मांगे, नहीं तो सभी प्रमुख नेताओं के नाम पर जुर्म दर्ज करवाकर मानहानि का मुकादमा करूंगा. पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह के अंतागढ़ उपचुनाव में खरीद-फरोख्त में नाम आने से भाजपा की और दुर्गति हुई है. रमन सिंह ने लोकतंत्र की हत्या की है प्रजातंत्र या मतदाताओं के ऊपर विश्वास नहीं है.

मंतूराम पवार ने कहा कि मेरे जन्म तारीख के त्रुटि का सामना करने को तैयार हूँ, 1990 में मैं 26 वर्ष था. 16.3.63 में मेरा जन्म हुआ है, ये प्रशासनिक त्रुटियाँ है. इसमें मेरा नहीं चुनाव आयोग की गलती है. इसे उन्हें सुधारना चाहिए.

गौरतलब है कि बीजेपी ने आरोप लगाया है कि मंतूराम पवार ने जब पहली बार 1990 में चुनाव लड़ा था, तब उन्होंने शपथ पत्र में गलत जन्म तिथि दर्शाया था. उस वक्त वो 25 साल के नहीं हुए थे. विधानसभा चुनाव में फर्जी जन्म प्रमाण पत्र के आधार पर मंतूराम ने चुनाव लड़ा था. जन्म तिथि में हेरफेर करना अपराध की श्रेणी में आने की बात कहकर कार्रवाई करने की मांग की है.

बीजेपी का आरोप है कि 1990 में विधानसभा चुनाव फरवरी में सम्पन्न हुआ था मन्तूराम पवार की उस समय उम्र 25 वर्ष से कम थी. इससे यह स्पष्ट प्रतीत होता है कि मन्तूराम पवार द्वारा उस समय झूठा शपथपत्र अपनी उम्र के संबंध में प्रस्तुत किया गया था. मन्तुराम पवार का उक्त कृत्य धोखाधड़ी की श्रेणी में आता है, जो कि दण्डनीय अपराध है.

फर्जी जन्म प्रमाण पत्र में फंसे मंतूराम पवार, बीजेपी ने फर्जीवाड़ा कर चुनाव लड़ने का लगाया आरोप, थाने में हुई शिकायत

Related Articles

Back to top button
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।