अवैध कटाई और उत्खनन पर पीएमजीएसवाय के ईई पर गिरी गाज, तत्काल प्रभाव से निलंबित कर रायपुर किया अटैच

रायपुर. खैरागढ़ में पदस्थ प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के कार्यपालन अभियंता बलवंत पटेल को राज्य सरकार ने शुक्रवार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया. यह कार्रवाई विधानसभा में खैरागढ़ विधायक देवव्रत सिंह के खैरागढ़ वन क्षेत्र में अवैध पेड़ कटाई और उत्खनन को लेकर ध्यानाकर्षण लाए जाने के बाद की गई है.

ईई पटेल पर राजनांदगांव क्षेत्रांतर्गत खैरागढ़ वनमण्डल क्षेत्र में वर्ष 2017-18, 2018-19 तथा जनवरी-फरवरी 2019 में बड़े पैमाने पर प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना अंतर्गत सड़क निर्माण कार्य में ठेकेदार ने वन क्षेत्रों के जंगल झाड़ी को काटकर अवैध मुरूम एवं गिट्टी पत्थर का उत्खनन कराये जाने पर छत्तीसगढ़ सिविल सेवा नियम 1966 के तहत निलंबन की कार्रवाई की गई है.

खैरागढ़ विधायक ने विधानसभा में उठाया था मामला

इस मामले को खैरागढ़ विधायक देवव्रत सिंह ने विधानसभा में ध्यानाकर्षण के लिए लगाया था. विधायक ने 70 से अधिक सड़कों के निर्माण में 10 हजार ट्रिप से अधिक मुरुम व पत्थर खनन कर इस्तेमाल करने की बात कही थी. इसमें ठेकेदार ने बिना किसी लीज के उत्खनन किया था, जबकि पीएमजीएसवाय के एमबी में बाकायदा लीज से खनन करने का रिकार्ड दर्ज है.

मामले में वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने विधानसभा में जवाब देते हुए अवैध उत्खनन और अवैध कटाई के मामले दर्ज किए जाने की जनकारी दी थी. लेकिन इसके पीछे शासन और प्रशासन का शह होने की बात से इंकार किया था.

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।