आसमान छूती कीमतों के चलते धनतेरस में सोने की बिक्री पर होगा तगड़ा असर, सोने की खरीद में होगी 50 फीसदी की कमी

दिल्ली. सोना दिन पर दिन नई ऊचांइया छूता जा रहा है. पीली धातु अब आम आदमी की पहुंच से बाहर होती जा रही है जिसके चलते लोग इससे किनारा करने में लगे हैं.

ऊंचे भाव के चलते इस साल धनतेरस पर सोने की मांग कमजोर रहेगी. ऐसा देश के प्रमुख सर्राफा व्यापारियों का मानना है. उनका कहना है कि इस साल धनतेरस पर सोने की खरीदारी पिछले साल के मुकाबले घटकर आधी रहेगी. भारतीय सर्राफा बाजार में इस साल ऊंचे भाव पर होने के चलते सोने की मांग बेहद कमजोर है. जिसके चलते बाजार में वैसी रौनक नहीं है, जैसी पिछले सालों में रहती थी.

इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन के नेशनल सेक्रेटरी सुरेंद्र मेहता ने बताया कि धनतेरस पर देशभर में करीब 40 टन सोने की खरीदारी होती है लेकिन इस साल मांग कमजोर होने के कारण इसमें 50 फीसदी तक की कमी आएगी. जिसकी वजह है लोगों का पीली धातु में दिलचस्पी न लेना.

मेहता ने बताया कि ऊंचे भाव के चलते ही सितंबर में सोने का आयात घटकर 26 टन रह गया, जबकि पिछले साल इसी महीने में भारत ने 81.71 टन सोने का आयात किया था.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।