जाने कितनी प्रभावी है फाइजर की कोरोना वैक्सीन… आपके 5 से 11 साल के बच्चों को लगने वाली है

वाशिंगटन. फाइजर और उसके सहयोगी बायोएनटेक ने कहा कि उनकी कोरोना वैक्सीन सुरक्षित है और 5 से 11 साल के बच्चों में कोरोना वायरस के लक्षणों के खिलाफ 90.7 फीसदी प्रभावी है. कंपनियों ने 26 अक्टूबर को होने वाली फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) के सलाहकारों की बैठक से पहले शुक्रवार को पोस्ट किए गए एक दस्तावेज में डेटा जारी कर इसकी जानकारी दी.

फाइजर और बायोएनटेक उल्लिखित आयु वर्ग के बच्चों के लिए अपनी 10 माइक्रोग्राम खुराक की दो डोज एफडीए आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण (ईयूए) के लिए लागू कर रहे हैं.

दो खुराकों को तीन सप्ताह के अंतराल पर दिया जाएगा.

इन आंकड़ों से पता चलता है कि 5 से 12 साल से कम उम्र के बच्चों को दी जाने वाली टीके की दो खुराक उच्च स्तर की सुरक्षात्मक प्रभावकारिता प्रदान करती है. एफडीए की टीके और संबंधित जैविक उत्पाद सलाहकार समिति की बैठक 26 अक्टूबर को होनी है, जिसमें इस बात पर चर्चा होगी कि खुराक को अधिकृत किया जाए या नहीं. अगर अनुमति मिलती है, तो यह छोटे बच्चों के लिए पहला कोरोना वैक्सीन होगा. फाइजर-बायोएनटेक वैक्सीन वर्तमान में 16 वर्ष और उससे अधिक उम्र के लोगों के लिए पूरी तरह से स्वीकृत है और 12 से 15 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए ईयूए है.

जाने वाइट हाउस ने अपने बयान में क्या कहा ?

व्हाइट हाउस ने बुधवार को एक बयान में कहा, “26 अक्टूबर को एफडीए की स्वतंत्र सलाहकार समिति की बैठक और सीडीसी (रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र) की स्वतंत्र सलाहकार समिति की बैठक 2 से 3 नवंबर को होने वाली है. बाइडेन प्रशासन यह सुनिश्चित करने के लिए एक योजना की घोषणा कर रहा है कि अगर कोई टीका 5 से 11 साल की आयु के बच्चों के लिए अधिकृत है तो यह जल्दी से वितरित किया जाए और देशभर के परिवारों को आसानी से और समान रूप से उपलब्ध कराया जाए.” उन्होंने आगे कहा, “नवीनतम योजना सार्वजनिक और निजी क्षेत्रों में एक व्यापक प्रयास है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि हमारे पास देश के बच्चों को टीका लगाने और वायरस से बचाने के लिए आवश्यक टीके की आपूर्ति और समर्थन है.”

 

Weight Loss: Shahnaz Gill ने 6 महीने में घटाया इतना वजन, कहा – मुश्किलों भरी रही जर्नी, देखिए Photos …

 

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।