पीएम मोदी ने इंटरव्यू में बताया कि 1987-88 में उन्होंने पहला ईमेल किया था, इस बॉलीवुड एक्टर ने कहा- उल्लू बनाने की भी हद होती है

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा एक टीवी चैनल को दिया गया इंटरव्यू को लेकर सोशल मीडिया में उनका जमकर मजाक उड़ाया जा रहा है. पहले बालाकोट एयर स्ट्राइक के दौरान बादल और राडार को लेकर पीएम मोदी का बयान चर्चा में रहा, विपक्ष से लेकर सोशल मीडिया में लोगों ने प्रधानमंत्री पर खूब मजे लिये. अब पीएम के उस इंटरव्यू का एक और वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वे बता रहे हैं कि  1987-88 में उन्होंने डिजिटल कैमरे का इस्तेमाल किया था और ईमेल के जरिये उसकी फोटो को भेजा था.

पीएम मोदी के इस बयान को लेकर भी सोशल मीडिया पर मजाक बनाया जा रहा है. बॉलीवुड एक्टर और बेंगलूरू से निर्दलीय प्रत्याशी के रुप में चुनाव लड़ रहे प्रकाश राज ने प्रधानमंत्री के इस बयान पर ट्वीट करते हुए जमकर तंज कसा है.

प्रकाश राज ने ट्विट किया, “हम लोगों को जहां तक जानकारी है तो यह ऐसा 1990 के दशक में हुआ था…लेकिन हमारे चौकीदार के पास डिजिटल कैमरे और ईमेल की जानकारी 1980 के दशक में ही हो गई थी…हालांकि वे उस समय जंगल में थे…महाभारत पढ़ते हुए…क्लाउड्स से घिरे…उल्लू बनाने के भी हद होती है…भाई.”


प्रकाश साऊथ की फिल्मों के अलावा बॉलीवुड फिल्मों के मशहूर अभिनेता हैं. सिंघम, वान्टेड जैसी फिल्मों में उनके द्वारा किये गए किरदार को लोगों ने काफी पसंद किया था. वे बेंगलुरु सेंट्रल की सीट से निर्दलीय प्रत्याशी के रुप में चुनाव लड़ रहे हैं.

1995 में हुई थी शुरुआत

पीएम मोदी ने इंटरव्यू में भले ही साल 1987-88 में ईमेल करने की बात कही. लेकिन हकीकत तो यह है कि 15 अगस्त 1995 को भारत में इंटरनेट की शुरुआत हुई थी. विदेश संचार निगम लिमिटेड पहली कंपनी थी जिसने भारत में इंटरनेट की शुरुआत की थी.

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।