पुलिस ने बनाया ऐसा एप, जिससे आइसोलेटेड व्यक्ति घर से 200 मीटर दूर निकला, तो पुलिस को मिल जाएगा एसएमएस अलर्ट

रायपुर। जांजगीर पुलिस अधीक्षक पारुल माथुर ने नवाचार करते हुए एक विशेष टीम गठित की है. उक्त टीम द्वारा एक नवीन मोबाइल एप्प बनाया है. जिसमें की प्रत्येक 1 घन्टे में होम आइसोलेटेड रखे गए संदिग्ध सेल्फी भेजेंगे और अपने घर से 200 मीटर दूर जाने पर अपने आप मैसेज अलर्ट मिल जाएगा. जिससे निश्चित किया जा सकेगा कि संदिग्ध अपने आइसोलेटेड स्थान पर है या नहीं. इस तकनीक से लगातार गूगल मैप से ट्रैकिंग किया जा सकता है.

पुलिस अधीक्षक पारुल माथुर ने कोविड-19 कोरोना वाइरस से जिला जांजगीर के निवासियों की सुरक्षा के लिए नवीन पहल करते हुए जिले में विदेश और अन्य प्रान्तों से आए करीब 7 हजार ऐसे व्यक्ति जिनको कोरोना वायरस से इन्फेक्टेड होने की संभावना की आशंका होने पर उन पर निगरानी रखने के लिए इस एप को बनाया गया है. नवीन तकनीक का उपयोग करने के लिए सभी थाना प्रभारियों को निर्देशित करते हुए साइबर सेल के माध्यम से जिले के थाना प्राभारी, मेडिकल व राजस्व टीम को प्रशिक्षित किया गया. जिसका उपयोग करते हुए सभी थाना प्रभारियों ने अपने क्षेत्र के जो भी विदेश से और अन्य राज्य से आए हुए व्यक्ति जिन्हें होम आइसोलेटेड किया गया है.

लगातार उनके मोबाइल पर एक्टिव किये गए लोकेशन सेटिंग के माध्यम से निगरानी रखी जा रही है, ताकि उनके द्वारा किसी प्रकार की उपेक्षा या लापरवाही किये जाने पर तत्काल पुलिस द्वारा कार्यवाही कर क्षेत्र के लोगों के स्वास्थ्य एवम जीवन को संक्रामक रोग से संकटापन्न होने से रोका जा सके.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।