अंतरराज्यीय कबूतर चोर गिरोह का पुलिस ने किया भंडाफोड़, ये गिरोह सिर्फ करता था कबूतरों की चोरी

चंद्रकांत देवांगन, दुर्ग. चैम्पियन कबूतरों के अंतर्रराज्यीय चोर गिरोह का पुलिस ने भंडाफोड किया है. इस खुलासे में कबूतरबाज ही चैम्पियन कबूतरों के चोरी के मास्टरमाइंड निकले है. कबूतर चोरी के बाद आरोपी का बेटा अपने नाबालिग दोस्तों के साथ घटना स्थल की निगरानी करता रहा.

ये कबूतर चोर कामठी से कबूतर चोरी करने पहुंचे थे और उसके बाद कबूतर चोरी कर वापिस कामठी आ गये थे. ये 120 कबूतर को अरोपी दो बोरे में भर कर मोटर साइकिल से कामठी ले गए. घटना के बाद जब पुलिस ने कामठी के कबूतरबाज के घर में दबिश दी तो उन्हें वहा से 53 नग बेशकीमती कबूतर मिले हैं. पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए कामठी के एक कबूतरबाज स्वरूप बोरकर सहित तीन नाबालिग आरोपियों को गिरफ्तार किया है. वहीं इस मामले में मास्टरमाइंड सहित चार आरोपी अभी भी फरार बताये जा रहे हैं. जिसमें हैदर अली, एरिस बाबू, फैजल और मोहसिन शामिल हैं.

आरोपी:स्वरूप बोरकर

गौरतलब है कि केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल हैदराबाद में डीआईजी अजय भारतंग द्वारा दिया गया कबूतर दो दिने पहले चोरी हो गया था. इस चोरी की घटना के बाद पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया है. आनन फानन में पुलिस विभाग ने इस मामले में अपराध दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी. यह सनसनीखेज मामला दुर्ग में सामने आया था. जहां जेवर, नगदी सहित अन्य सामान नहीं ​बल्कि एक पक्षी प्रेमी के घर की छत पर बने पक्षियों के आशियाने से तकरीबन सवा सौ से ज्यादा कबूतर चोरी हो गए थे और जिन कबूतरों की चोरी हुई थी उनमें से करीब 10 कबूतर सीआरपीएफ हैदराबाद में डीआईजी अजय भारतंग द्वारा दिये गये थे.

पूरा मामला जानने के लिए इस खबर को भी पढ़ें…

पूरे जिले की पुलिस जुटी कबूतरों की तलाश में, 125 चैंपियन कबूतरों की चोरी

Related Articles

Back to top button