Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

शब्बीर अहमद, भोपाल। स्टेशनों और ट्रेनों में अवैध वेंडरो ने कब्जा कर रखा है। ये लोग फर्जी आईडी बनाकर स्टेशनों और ट्रेनों में मानक स्तर से कम क्वालिटी का खाना बेच रहे हैं। अवैध वेंडरों के खिलाफ भोपाल रेल मंडल ( Bhopal Railway Division) के स्टेशनों पर GRP ने ताबड़तोड़ कार्रवाई की। GRP ने कार्रवाई करते हुए 15 अवैध वेंडरो के खिलाफ FIR दर्ज की है। ये सभी फर्जी आईडी बनाकर भोपाल, बीना, खंडवा रेलवे स्टेशनों और ट्रेनों में सामान बेचते थे। GRP ने भोपाल के 5, बीना के 9,खंडवा के 1 अवैध वेंडरो पर FIR दर्ज की। 

इधर रेलवे ( railway) ने यात्रियों से अवैध वेंडरों से कुछ भी नहीं खरीदने की अपील की है।  रेल प्रशासन (Rail Administration) ने कहा कि ये अवैध वेंडर ही ट्रेन में असामाजिक तत्वों से मिले हो सकते हैं। लिहाजा इनसे सामान न खरीदे। खाने-पीने के सामान इन लोगों से न खरीदें क्योंकि इनका सामान मानक स्तर से कम क्वालिटी का होता है।

15 रुपए पानी बॉटल की लेते हैं 20 से 25 रुपए

जानकारों की मानें तो अवैध वेंडर के कर्मचारी ट्रेन के अंदर पानी की बॉटल 15 रुपए की जगह 20 से 25 रुपए तक बेच रहे हैं। चिप्स और बिस्किट के पैकेट में भी डेढ़ गुनी राशि वसूली जा रही है। जरुरतमंद यात्री मजबूरी में अवैध वेंडरों से खाद्य सामग्री खरीद रहे हैं। वहीं जीआरपी और आरपीएफ बहुत शिकायत होने पर अवैध वेंडरों पर खानापूर्ति कार्रवाई करते हैं। वहीं रेलवे के कमर्शियल विभाग की तरफ से लंबे समय से कोई बड़ी कार्रवाई नहीं होती है।

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus