दिल्ली में कोयले से नहीं होता बिजली उत्पादन, दूसरे राज्यों के पावर प्लांट से होती है अधिकतम बिजली आपूर्ति- सत्येंद्र जैन

ऊर्जा मंत्री सत्येंद्र जैन ने कोयला के कारण संभावित बिजली संकट‌ पर बैठक की

नई दिल्ली। केजरीवाल सरकार के ऊर्जा मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि देश में थर्मल पॉवर प्लांट में कोयले की कमी हो गई है. इसकी वजह से बिजली उत्पादन कम हुआ है. दिल्ली में कोयले से बिजली उत्पादन नहीं होता है, बल्कि दूसरे राज्यों के पॉवर प्लांट से दिल्ली में अधिकतम बिजली आपूर्ति की जाती है. उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ने केंद्र सरकार से अपील की है कि रेलवे वैगन का इंतजाम किया जाए और जल्द से जल्द कोयले को पावर प्लांट तक पहुंचाया जाए. दिल्ली सरकार कोशिश कर रही है कि किसी भी तरह बिजली खरीदकर पर्याप्त आपूर्ति की जाए.

कोयले की कमी को लेकर CM केजरीवाल ने PM मोदी को लिखा पत्र, दिल्ली में हस्तक्षेप की मांग

देश में चल रहे कोयला संकट के मद्देनज़र दिल्ली के ऊर्जा मंत्री सत्येंद्र जैन ने एक उच्च स्तरीय बैठक की. इस बैठक में बिजली विभाग के अधिकारियों और सभी ऊर्जा कंपनियों को बुलाया गया था. इस दौरान सत्येंद्र जैन ने कहा कि पूरे देश में कोयले से चलने वाले पॉवर प्लांट में कोयले की कमी आई है. जिसकी वजह से बिजली उत्पादन बेहद कम हो गया है.

ऊर्जा मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि देश में बिजली की मांग काफी कम है. इसके बाद भी पॉवर प्लांट बिजली का उचित उत्पादन नहीं कर पा रहे हैं. दिल्ली में कोयले से बिजली का उत्पादन नहीं किया जाता है. दिल्ली के बाहर स्थित पॉवर प्लांट से दिल्ली में अधिकतम बिजली आपूर्ति की जाती है. ज्यादातर बिजली केंद्र सरकार के एनटीपीसी से खरीदी जाती है, जहां कोयले का भंडार कम से कम एक महीने का रखना होता है, जो घटकर एक दिन का ही रह गया है. इसके अलावा ज्यादातर पावर प्लांट अपनी 100 फीसदी क्षमता पर नहीं चल रहे हैं.

रेलवे वैगन का इंतजाम करने की मांग

ऊर्जा मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि केंद्र सरकार से दिल्ली सरकार अपील करती है कि रेलवे वैगन का इंतजाम किया जाए और जल्द से जल्द कोयले को इन पॉवर प्लांट तक पहुंचाया जाए और कम से कम एक महीने का भंडार सुनिश्चित किया जाए. साथ ही देश के सभी पॉवर प्लांट को उनकी 100 फीसदी क्षमता पर चलाया जाए.

No Bail For Aryan Khan Today, Next Hearing On Wednesday

उन्होंने कहा कि दिल्ली में तीन पॉवर प्लांट हैं. इनसे जितनी बिजली का उत्पादन हो सकेगा, दिल्ली सरकार द्वारा उतना उत्पादन किया जाएगा, चाहे वो किसी भी दर पर हो. दिल्ली सरकार कोशिश कर रही है कि किसी भी तरह और किसी भी दर पर बिजली खरीदकर दिल्ली में बिजली आपूर्ति को पूरा किया जाए.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।