देश में तीसरी लहर से पहले तैयारी, 6 से 12 साल के बच्चों पर होगा इस वैक्सीन का क्लीनिकल ट्रायल…

नई दिल्ली। देश में बच्चों को कोरोना से बचाने कोविड 19 वैक्सीन की क्लीनिकल ट्रायल मंगलवार से शुरू होने वाली है. भारत बायोटेक की कोवैक्सीन (COVAXIN) के क्लीनिकल ट्रायल के लिए 6 से 12 साल की उम्र के बच्चों की स्क्रीनिंग की जाएगी.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 6-12 साल के बच्चों के बाद दिल्ली एम्स 2-6 साल के आयु वर्ग के लिए ट्रायल करेगा. ये ट्रायल्स 525 केंद्रों पर हो रहे हैं. पटना एम्स, मैसूर मेडिकल कॉलेज और कर्नाटक में रिसर्च इंस्टीट्यूट को भी बच्चों पर क्लीनिकल ट्रायल करने के लिए चुना गया है.

पटना एम्स के डायरेक्टर प्रभात कुमार सिंह ने कहा कि हमने 6-12 साल की उम्र के बच्चों के लिए भर्ती शुरू कर दी है. 12-18 साल की उम्र के बच्चों पर क्लीनिकल ट्रायल्स के लिए भर्ती अब खत्म हो गई है. उन्हें निगरानी में रखा जाएगा.

इसे भी पढ़े- विशेष : आदिवासी जैसा चाहेंगे वैसा ही होगा काम, आदिवासी हितों पर सरकार का पूरा ध्यान… 

25 करोड़ से अधिक लोगों को लगी वैक्सीन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को बताया कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास कोविड वैक्सीन की 1.53 करोड़ से अधिक डोज हैं तथा चार लाख और डोज उन्हें अगले तीन दिनों में दी जाएंगी. मंत्रालय ने कहा कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अब तक भारत सरकार द्वारा (निशुल्क) और सीधे खरीद श्रेणी में 26 करोड़ से ज्यादा (26,64,84,350) डोज मुहैया कराई गई हैं.

इसे भी पढ़े- भिलाई में पुलिस का पहला डॉग ब्रीडिंग सेंटर शुरू, अब दूसरे राज्यों से डॉग्स खरीदना हुआ बंद… 

इसे भी पढ़े- गदर आवाज छत्तीसगढ़ के : संसदीय सचिव विकास उपाध्याय और देवजी भाई पटेल के बीच MSP बढ़ोतरी पर बड़ी बहस, देखिए वीडियो 

read more- Chhattisgarh Ranked Second by Central Department of Health and Family Welfare for the FY 2021-22

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।