अच्छी खबरः हैदराबाद यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर ने बनाया कोरोनावायरस का टीका, टेस्टिंग होनी बाकी

दिल्ली। देश में कोरोनावायरस से लड़ाई के बीच एक अच्छी खबर सामने आई है। हैदराबाद यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर ने कोरोनावायरस से लड़ने का टीका विकसित किया है। जिसकी टेस्टिंग होनी शेष है।
दरअसल, हैदराबाद यूनिवर्सिटी की बायोकेमिस्ट्री विभाग के स्कूल ऑफ लाइफ साइंसेज की प्रोफेसर डॉक्टर सीमा मिश्रा ने कोरोनावायरस से लड़ने वाला टीका विकसित किया है। उन्होंने सेल एपिटोप्स नामक टीके को तैयार किया है जो नोवल कोरोनोवायरस के सभी संरचनात्मक और गैर-संरचनात्मक प्रोटीनों के खिलाफ लड़ने में सक्षम है।
ये वैक्सीन छोटे कोरोनवायरल पेप्टाइड्स हैं, जो अणुओं की कोशिकाओं द्वारा उपयोग किया जाता है। इन वायरल पेप्टाइड्स को नुकसान पहुंचाने वाली कोशिकाओं को नष्ट करने के लिए रोग-प्रतिरोधक क्षमता तैयार की जा सके। कम्प्यूटेशनल सॉफ्टवेयर के साथ शक्तिशाली इम्यूनोइंफोर्मेटिक्स का उपयोग करते हुए डॉक्टर सीमा मिश्रा ने इन संभावित एपिटोप्स को इस तरह से डिजाइन किया है कि पूरी आबादी को इसका टीका लगाया जा सकता है।

हैैदराबाद यूनिवर्सिटी ने जानकारी देते हुए बताया कि हमने महज दस दिनों में इस वैक्सीन को बनाया है। अब सिर्फ इस टीके की टेस्टिंग होनी शेष है। टेस्टिंग के नतीजों के बाद सरकार की हरी झंडी मिलते ही इसे आम आदमी के उपयोग के लिए उपलब्ध करा दिया जाएगा। अगर सबकुछ सही रहा तो कोरोनावायरस से लड़ने में ये भारत की महत्वपूर्ण उपलब्धि होगी।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।