रायपुर पहुंचा डॉक्टरों का हड़ताल, मेकाहारा के जूनियर डॉक्टर कर रहे विरोध प्रदर्शन, भटक रहे मरीज

हेमंत शर्मा/सत्यपाल सिंह, रायपुर। पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों से मारपीट के बाद जारी हड़ताल अब छत्तीसगढ़ तक पहुंच गया है. राजधानी रायपुर के मेकाहारा अस्पताल में भी जूनियर डॉक्टर्स, नर्स के साथ रेसिडेंस डॉक्टर भी विरोध कर हड़ताल कर रहे हैं. डॉक्टर्स की हड़ताल से मरीज परेशान हो रहे है. ओपीडी में कोई भी डॉक्टर इलाज करने नहीं जा रहा है. केवल एमरजेंसी सेवा में ही इलाज की बात कह रहे है. इलाज नहीं होने से मरीज भटक रहे है. यह हड़ताल सुबह 8 बजे से दोपहर 2 बजे तक चलेगा.

डॉक्टरों का कहना है कि डॉक्टर कहीं भी महफूज नहीं है. पश्चिम बंगाल में जिस तरीके से डॉक्टर के साथ मारपीट हुई वह घटना काफी निंदनीय है. हमारे साथ भी आए दिन ऐसी घटना होती रहती है. सरकार हमारी सेफ्टी के लिए कदम उठाए, एक डॉक्टर मरीज को बचाने की भरपूर कोशिश करता है. पश्चिम बंगाल में भी उस डॉक्टर ने हरसंभव प्रयास मरीज को बचाने के लिए किया, लेकिन मरीज नहीं बच पाया इसके बाद उस डॉक्टर को बुरी तरीके से मारा गया.

उन्होंने कहा कि उससे ज्यादा दुर्भाग्य यह है कि वहा की ममता बनर्जी की सरकार ही डॉक्टरों के खिलाफ में है. ममता बनर्जी का भी बयान जो सामने आया है वो काफी शर्मनाक है. इसलिए इसके विरोध में सभी डॉक्टरों ने यहां मेकाहारा में काम काज बंद किया है. इधर इलाज कराने आए मरीजों और उनके परिजनों की हड़ताल के बारे में पहले से जानकारी नहीं थी. मरीज इलाज के लिए इधर उधर भटकते नजर आ रहे हैं.

जूनियर डॉक्टरों ने बताया कि कोलकाता में एनआरएस मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में डॉक्टरों के खिलाफ हिंसा को लेकर बंगाल में दो प्रोफेसरों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. प्रोफेसर सैबाल कुमार मुखर्जी ने एनआरएस मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल कोलकाता के प्रिंसिपल और मेडिकल सुपरिटेंडेंट और प्रोफेसर सौरभ चट्टोपाध्याय ने वाइस-प्रिंसिपल पद से इस्तीफा दे दिया है.

इससे पहले पश्चिम बंगाल में हड़ताल कर रहे जूनियर डॉक्टरों ने दोपहर दो बजे तक काम पर लौटने के ममता बनर्जी के निर्देश को नहीं माना और कहा कि सरकारी अस्पतालों में सुरक्षा संबंधी मांग पूरी होने तक आंदोलन जारी रहेगा.

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।