बारिश के पानी में बह गया रेलवे ट्रेक का बेस, 24 घंटे तक थमे रहे मालगाड़ियों के पहिए…

मनोज यादव, कोरबा। रविवार और सोमवार की रात हुई बारिश से कुसमुंडा क्षेत्र में एक स्थान पर जहां रेलवे ट्रेक के नीचे की मिट्टी बह गई, वहीं दूसरी ओर कोयला लदे मालगाड़ी का डिब्बा पटरी से उतर गया. दोनों घटनाओं से रेलवे को काफी नुकसान उठाना पड़ा है.

कोयला परिवहन में लगी मालगाड़ियों का आवागमन कुसमुंडा के लाइन नंबर 8 सेलो नंबर 3 का एक बड़ा हिस्सा पानी में बह गया. रेल लाइन के नीचे 8 फीट से अधिक मिट्टी धंस गई. रेल लाइन के नीचे से मिट्टी बह जाने के लिए रखरखाव करने वाली कंपनी झांझरिया ग्रुप को जिम्मेदार माना जा रहा है. ट्रेक के नीचे के बेस के पानी में बह जाने से लगभग 24 घंटे तक माल परिवहन बाधित रहा. इससे कम से कम 8 रेक कोयला परिवहन प्रभावित हुआ है.

दूसरी घटना न्यू कुसमुंडा लाइन नंबर 1 के एसईसीएल साइडिंग पर घटी. बताया जाता है कि कोयले की परत ट्रैक पर जमी थी, जो बारिश की वजह से कीचड़ में तब्दील हो गई. रात लगभग 11 बजे कोयला लोड करने जा रही एक मालगाड़ी के इंजन के पीछे का एक डिब्बा पटरी से उतर गया. इस लाइन को दुरुस्त करने में रेल अमले को लगभग साढ़े 3 घंटे लग गए. रात 2.30 बजे ट्रैक के ठीक होने के बाद कोयला परिवहन फिर शुरू हुआ.

देखिए वीडियो :

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।