Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राजीव गांधी ग्रामीण कृषि मजदूर न्याय योजना के शुभारंभ जल्द होने वाला है. इस अवसर पर सांसद और कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी, सांसद राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ अन्य वरिष्ठ नेताओं को बतौर अतिथि छत्तीसगढ़ आने के लिए आमंत्रित किया गया है.

बता दें कि प्रदेश में राजीव गांधी ग्रामीण कृषि मजदूर न्याय योजना का शुभारंभ शीघ्र होने जा रहा है. इस योजना के तहत ग्रामीण भूमिहीन परिवारों को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रतिवर्ष 6000 रुपए की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है. शुभारंभ के दिन प्रथम किस्त सीधे भूमिहीन परिवारों के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी. इस योजना के तहत भूमिहीन, मनरेगा मजदूर सहित नाई, धोबी, लोहार और पुजारी भी लाभांवित होंगे.

भूमिहीन परिवारों को लाभांवित करने कि छत्तीसगढ़ सरकार की यह अभिनव योजना है. इस तरह की योजना देश के अन्य राज्यों में कहीं नहीं है. छत्तीसगढ़ सरकार ने इस योजना के लिए वर्ष 2021-22 के बजट में 200 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इससे पहले पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न स्वर्गीय राजीव गांधी के नाम पर राज्य में किसानों को फसल उत्पादकता और फसल विविधीकरण को बढ़ावा देने के लिए वर्ष 2020 में राजीव गांधी किसान न्याय योजना प्रारंभ की थी. इस योजना के तहत राज्य के लगभग 22 लाख किसान लाभांवित हो रहे हैं.

बता दें कि राज्य में किसानों को इस योजना के तहत अब तक 10,176 करोड़ रुपए से अधिक की राशि सीधे मदद के तौर पर उनके बैंक खातों में स्थानांतरित की जा चुकी है. आगामी मार्च माह के आखिर तक 22 लाख किसानों को योजना की चौथी किस्त के रूप में लगभग 1500 करोड़ रुपए और दिए जाएंगे. राजीव गांधी किसान न्याय योजना में खरीफ की सभी प्रमुख फसलों के साथ-साथ उद्यानिकी फसलों और वृक्षारोपण को भी शामिल किया गया है. खरीफ 2021 के सभी उत्पादक कृषकों को प्रति एकड़ के मान से 9000 रुपए का अनुदान सहायता देने का प्रावधान है.

इसे भी पढ़ेंः रेस्टोरेंट में खाने के हैं शौकिन तो लगवा लें वैक्सीन, अब सर्टिफिकेट दिखाए बिना नहीं मिलेगी एंट्री!

">
Share: