छत्तीसगढ़ में 35 में 9 केन्द्रीय विद्यालय के पास खुद का भवन नहीं, रामविचार नेताम ने राज्यसभा में उठाया मुद्दा

दिल्ली। छत्तीसगढ़ में केन्द्रीय विद्यालयों की सुविधाओं का मुद्दा आज राज्यसभा में सांसद रामविचार नेताम ने उठाया. उन्होंने केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री से पूछा कि छत्तीसगढ़ राज्य में केन्द्रीय विद्यालयों की स्थिति ठीक नहीं है, वहाँ पढ़ने वाले विद्यार्थियों के पास सुविधाओं का अभाव है. कई केन्द्रीय विद्यालयों के पास अपना खुद का भवन तक नहीं है. भवन नहीं होने प्रयोगशाल, खेल-कूद सहित अन्य कई गतिविधियों से विद्यार्थी वंचित है.  स संबंध में सरकार की ओर से क्या प्रयास किए जा रहे हैं ?

नेताम के सवाल पर केन्द्रीय मंत्री रमेश पोखियालय ने जवाब देते हुए कहा कि, छत्तीसगढ़ में 35 केंद्रीय विद्यालय है. इसमें अभी 9 केन्द्रीय विद्यालयों के पास खुद का भवन नहींं है, भवन निर्माणाधीन है. नारायणपुर, बीजापुर, दुर्ग, सुकमा, नवा रायपुर, कवर्धा और सरायपाली में भवन ही बन रहे हैं. इसके साथ ही केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल बिलासपुर, केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल भिलाई साथ अन्य केन्द्रीय विद्यालयों द्वारा उच्चतर शिक्षा प्रयोगशाला कार्य हेतु कक्षाएँ आयोजित कराए जा रहे हैं. 

Back to top button
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।