मंत्री टीएस सिंहदेव ने रामगढ़ महोत्सव का किया शुभारंभ, आयोजन में दिखी लोककलाओं की खास झलक…

अंबिकापुर। आषाढ़ के प्रथम दिवस पर उदयपुर जनपद के रामगढ़ में सोमवार से दो दिवसीय रामगढ़ महोत्सव की शुरुआत हुई. राजमोहनी देवी भवन में कार्यक्रम स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री टीएस सिंहदेव के मुख्य आतिथ्य में हुआ. छत्तीसगढ़ की संस्कृति को बताने वाले इस महोत्सव में देशभर से कलाकार और कला प्रेमी पहुंच रहे हैं.

इस अवसर पर मंत्री टीएस सिंहदेव ने लोगों को रामगढ़ महोत्सव की बधाई देते हुए कहा कि हर साल मनाया जाना वाला यह ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक उत्सव है. हमारी संस्कृति को अक्षुण रखते हुए उसकी महत्ता को भावी पीढ़ियों तक पहुंचाने के लिए ऐतिहासिक एवं पुरातात्विक स्थलों को सहेजना होगा. सरगुजा में अनेक पुरातात्विक धरोहर विद्यमान है,  उन्होंने कहा कि रामगढ़ की पहाड़ी ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक धरोहर के रूप में और विश्व के प्राचीनतम् नाट्यशाला के रूप में अपनी पहचान स्थापित किए हुए है. रामगढ़ महोत्सव के द्वारा इस ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक धरोहर को और करीब से जानने का अवसर प्राप्त होता है.

लुण्ड्रा विधायक डॉ. प्रीतम राम ने कहा कि प्राचीन काल से रामगढ़ की पहाड़ी का संबंध मानव इतिहास से जुड़ा हुआ है. इस प्राचीनतम धरोहर को सहजने के लिए प्रतिवर्ष आयोजित होने वाले रामगढ़ महोत्सव में शोध संगोष्ठी एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है. उन्होंने कहा कि शोध संगोष्ठी के माध्यम से सरगुजा के ऐतिहासिक एवं पुरातात्विक महत्ता को उजागर किया जा सके.

Advertisement
Back to top button
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।