रेपिस्ट ने चुनी अपनी मौतः कोर्ट ने सुनाई 20 साल की सजा, जेल जाने से पहले रास्ते में जहर खाकर आत्महत्या की

दुष्यंत मिश्रा, नर्मदापुरम। नर्मदापुरम में नाबालिग से रेप के आरोपी ने सजा सुनने के बाद जहर खाकर आत्महत्या कर ली। आरोपी को कोर्ट ने 20 साल की सजा सुनाई थी। पुलिस कस्टडी में उसे जेल ले जाया जा रहा था। रास्ते में उसने जहर खा लिया। आरोपी की हालत खराब होने के बाद पुलिस ने अस्पताल में भर्ती किया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Election Big Breaking: चुनाव ड्यूटी कर रहे एक कर्मचारी को सांप ने डसा, दूसरे के पैर से लिपटा, इधर भिंड में दो प्रत्याशियों के समर्थकों के बीच मारपीट के बाद चली गोली

दरअसल घटना दिनांक 4 जुलाई 2020 की है। 17 वर्षीय नाबालिग को उसके घर से ग्राम रायपुर निवासी राजा कहार बहला फुसला कर भोपाल ले गया था। उसने भोपाल में नाबालिग के साथ रेप किया था। इसकी जानकारी पीड़िता के परिजनों ने देहात थाने में दी थी। मामले की जांच उप निरीक्षक निकिता विल्सन ने किया। जांच के बाद अभियोग पत्र न्यायालय में पेश किया गया था। राजा फोरलेन स्थित पेट्रोल पंप पर काम करता था। जमानत पर चल रहा था।

Crime Breaking: मतदान के बीच सरपंच प्रत्याशी के पति ने पीया कीटनाशक, अस्पताल पहुंचने से पहले रास्ते में हुई मौत

 शुक्रवार को केस की उसकी आखिरी पेशी थी। विशेष न्यायालय में विशेष न्यायाधीश आरती ए शुक्ला ने दोपहर 2.45 बजे 20 साल की सजा सुनाई। जेल ले जाते समय उसकी अचानक तबीयत बिगड़ने लगी। इसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। मामले की जांच जारी है। पीएम के बाद आरोपी के मौत का कारण स्पष्ट होगा।़

BIG BREAKING: भिंड में पोलिंग बूथ पर उपद्रवियों ने किया पथराव, ASI घायल, इधर मुरैना में राजस्थान के 3 फर्जी मतदाता गिरफ्तार

केस सेटलमेंट के लिए लड़के ने पीड़िता को ढाई लाख रुपए दिए थे

वहीं मृतक के परिजनों ने बताया के फैसले की जानकारी लगने के बाद पुलिस कस्टडी में छोड़ कर सभी घर चले गए। किसी पार्टी की साजिश से यह घटना क्रम किया गया है। यहां से फोन आने के बाद अस्पताल पहुंचे तो हमीदिया अस्पताल रेफर करने की बात कही गई। तुरंत निजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। केस सेटलमेंट के लिए लड़के ने पीड़िता को ढाई लाख रुपए भी दिए थे।

ईसाई BJP कैंडिडेट बना हिंदू: कलेक्टर को शपथ-पत्र सौंपा, कहा- मेरे पूर्वज सनातन धर्म को मानने वाले थे, इसलिए बिना प्रलोभन परिवार समेत धर्म बदला

मामले की जांच जारी

वहीं नर्मदापुरम एसडीओपी पराग सैनी ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि मृतक पॉक्सो एक्ट के तहत 376 का आरोपी था। कोर्ट ने 20 साल जेल की सजा सुनाई थी। जेल ले जाते समय उसकी अचानक तबीयत बिगड़ने लगी। इसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। मामले की जांच जारी है। पीएम के बाद आरोपी के मौत का कारण स्पष्ट होगा।

BREAKING: भिंड में मतदान शुरू होने से पहले युवक की हत्या, गांव में तनाव की स्थिति, भारी संख्या में पुलिस पहुंची, इधर विदिशा में लोगों ने चुनाव का किया बहिष्कार

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Related Articles

Back to top button