शहीद स्मारक के लोकार्पण में अनदेखी पर भड़के राजेश मूणत, कहा- रमन सिंह के नेतृत्व में हमने तैयार किया था, इसका भी राजनीतिकरण करना निंदनीय…

रायपुर. शहीदों की याद में बनाए गए शहीद स्मारक के लोकार्पण समारोह में आमंत्रित नहीं किए जाने पर पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने आपत्ति जताते हुए कहा कि इसे हमने पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में तैयार किया था. आज इसका लोकार्पण नई सरकार कर रही है, इसमें आश्चर्यजनक यह है कि इसका भी राजनीतिकरण हो रहा है, जो अपने आप में निंदनीय है.

राजेश मूणत ने कहा कि शहीदों की गाथा आम जनता को देख सके इसके लिए हमें शहीद स्मारक का निर्माण किया था, हम पूर्व में ही इसका लोकार्पण करने वाले थे, लेकिन इससे पहले ही आचार संहिता प्रदेश में लागू हो गई. जिसकी वजह से लोकार्पण नहीं हो पाया. आज इसका लोकार्पण नई सरकार कर रही है. इसमे आश्चर्य जनक बात यह है कि इसका भी राजनीतिकरण हो रहा है. यह अपने आप मे निंदनीय है.

उन्होने कहा कि चपरासियों के हाथ इसका निमंत्रण बांटा जा रहा है. इसके पहले जितने भी लोकार्पण हमारी सरकार के  कार्यकाल में हुए थे, उसमें हमने आमंत्रण कार्ड में यहां के महापौर की फ़ोटो लगाई है. हमने राजनीतिक कार्यों में सब को जोड़कर साथ रखने की बात हमेशा की, लेकिन जिस प्रकार की सोच लेकर यह सरकार आगे बढ़ रही है, यह काफी निंफनीय है.

 

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।