101 किलो दूध से सालासर बालाजी का किया अभिषेक और 1001 सवामणि का लगाया भोग, महिलाओं ने की महाआरती…

सुप्रिया पाण्डेय, रायपुर. राजधानी के सालासर बालाजी मंदिर में दो दिवसीय वार्षिकोत्सव मनाया गया. वार्षिकोत्सव के अंतिम दिन रविवार को मंदिर प्रांगण में कई कार्यकर्मों का आयोजन किया गया. कर्तव्य अग्रवाल ने बताया कि सुबह 101 किलो दूध से भगवान का अभिषेक किया गया. साथ ही 1001 सवामणि का भोग लगाया गया. हजारों की तादाद में भक्तजन मंदिर परिसर में मौजूद रहे. शाम को छप्पन भोग का प्रसाद चढ़ाया गया और 51 महिलाओं के द्वारा महाआरती किया गया.

राजस्थान से शामिल हुए पंडित सत्यनारायण शास्त्री ने वार्षिकोत्सव में हिस्सा लिया. इस दौरान उन्होंने कहा कि जब से यहां भगवान हनुमान जी की स्थापना हुई है तब से वार्षिकोत्सव में इनकी पूजा और अभिषेक की जिम्मेदारी हम पर है. हम राजस्थान के सालासर से यहां आते हैं और भगवान का श्रृंगार करते है.
दूध, केला, दही, केवड़ा जल, गुलाब जल, गंगाजल समेत सात नदियों और सात समुद्रों के जल से भगवान का अभिषेक किया गया. साथ ही 108 किलों दूध से पंडितों के द्वारा लगातार 7 घंटे तक अभिषेक किया गया.

आपको बता दें कि मंदिर के वार्षिकोत्सव में शामिल होने के लिए राजस्थान के प्रसिद्ध सालासर मंदिर से 11 पंडितों को बुलाया गया है. जिन्होने मंदिर में भगवान का विशेष श्रृगांर किया. 21 पंडितों के द्वारा संगीतमय महा आरती की. साथ ही 108 आरती गायी गई और 1100  दीपक जलाए गए.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।