सर्व आदिवासी समाज ने गणेश पूजा और दुर्गा पूजा को अपनी संस्कृति पर खतरा बताया, ब्लॉक में स्थापना ना कराने की मांग

मानपुर, राजनांदगांव. मानपुर में सर्व आदिवासी समाज ने प्रशासन को एक पत्र लिखा है. जिसमें सार्वजनिक तौर पर गणेश भगवान और दुर्गा देवी की स्थापना ना कराए देने की मांग की गई है.

ये चिट्ठी छत्तीसगढ़ सर्व आदिवासी समाज, मानपुर ने एसडीएम को दी है. जो खूब वायरल हो रही है. चिट्ठी में कहा गया है कि पूरा विकासखंड संविधान की 5वीं अनुसूची का क्षेत्र घोषित है जिसमें आदिवासियों को विशेष संरक्षण हासिल है. चिट्ठी में कहा गया है कि वे लोग विशेष रुढ़ी प्रथा, भाषा और संस्कृति से सुसज्जित है.

चिट्ठी में लिखा गया है कि हिंदू धर्म मानने वाले लोगों के लगातार धार्मिक प्रचार से आदिवासी संस्कृति और परंपरा पर खतरा मंडराने लगा है. इसलिए गणेश पूजा और दुर्गा पूजा पर रोक लगाई जाए. सर्व आदिवासी समाज ने कहा कि जो ऐसा करे, उस पर कार्रवाई हो.

इस चिट्ठी पर सर्व आदिवासी समाज के कई लोगों के दस्तखत हैं. समिति के अध्यक्ष सोहन पोटाई से जब लल्लूराम डॉट कॉम ने बात की तो उन्होंने इस चिट्ठी को प्रशासन को सौंपे जाने की पुष्टि की है.

पोटाई ने कहा कि आदिवासी भी ईष्ट देवता की पूजा-अराधना करते हैं. लेकिन वे अपने घरों पर करते हैं. पोटाई ने कहा कि सार्वजनिक तौर पर आदिवासी ऐसा नहीं करते.

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।