Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

बलरामपुर/कोरिया। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कलेक्टर्स के बाद आईजी-एसपी की समीक्षा बैठक ले रहे हैं. तस्करों पर लगाम लगाने की बात कह रहे हैं, लेकिन इधर बैठक चल रही है और उधर बेखौफ तस्कर तस्करी करने में मशगूल है. सरगुजा संभाग के बलरामपुर और कोरिया जिले में शराब की बड़ी खेप पकड़ाई है. बलरामपुर में तस्करों ने पुलिसकर्मियों पर ही वाहन चढ़ाने की कोशिश की है. जिस कारण टीआई और आरक्षक घायल हो गए हैं. बलरामपुर पुलिस ने 50 पेटी अंग्रेजी शराब और कोरिया पुलिस ने 40 पेटी अंग्रेजी शराब जब्त किया है.

बलरामपुर जिले के रघुनाथ नगर पुलिस ने शराब तस्करों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए पिकअप से 50 पेटी अंग्रेजी शराब जब्त किया है. जिसकी कीमत 3 लाख 21 हजार से ज्यादा है. लेकिन कार में सवार तस्कर अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में कामयाब रहे. पुलिस को मुखबीर से सूचना मिली थी कि एक पिकअप में अवैध तरीके से 50 पेटी शराब रखकर एक तस्कर मध्यप्रदेश से छतीसगढ़ की ओर आ रहा है.

जिसे पकड़ने के लिए पुलिस की टीम निकली और वाहन को रोकने लगी, लेकिन तस्कर थाना प्रभारी के वाहन को ही ठोकर मारते हुए पिकअप छोड़ जंगल की ओर भाग निकला. इस हादसे में थाना प्रभारी का वाहन भी बुरी तरीके से क्षतिग्रस्त भी हो गया है. प्रभारी समेत एक आरक्षक भी घायल हो गया. साथ ही तस्कर और उसका साथी घने जंगल में भागने में कामयाब हो गए.

इस मामले में रघुनाथनगर पुलिस ने बताया कि पिकअप वाहन में 50 पेटी अंग्रेजी अवैध शराब जब्त किया गया है. वाहन से गोवा अंग्रेजी शराब की कुल 44 पेटी, मोकडवल नंबर वन की 2 पेटी और मिरिंडा की 4 पेटी कुल मात्रा 450 लीटर बरामद हुआ है. जिसकी कीमत 3 लाख 21 हजार से ज्यादा है. तस्करों के खिलाफ धारा 34(2) आबकारी एक्ट समेत अन्य धाराओं के तहत कार्रवाई की जा रही है.

कोरिया जिले के मनेंद्रगढ़ पुलिस ने भी जनकपुर मार्ग में मुखबिर की सूचना के बाद घेरांबदी कर 4 शराब तस्करों को गिरफ्तार किया है. उनके पास से 40 पेटी अंग्रेजी शराब जब्त किया है. जिसमें गोवा 35 पेटी, ब्लू चिप 5 पेटी कुल 360 लीटर शराब और एक बोलेरो वाहन कुल कीमती 14 लाख 60 हजार रुपए बरामद किया है. जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. उनमें आरोपी संजीत श्रीवास्तव (39 वर्ष), प्रेम सिंह (42 वर्ष), अर्पित सिंह परिहार (23 वर्ष) और मुकेश कुमार प्रजापति (25 वर्ष) शामिल है, सभी मप्र के निवासी है. आरोपियों के खिलाफ आबकारी एक्ट के तहत कार्रवाई की जा रही है.