बैंक में ‘लूट’ की खबर से सनसनी: 4 अज्ञात लुटेरे 10 लाख रुपए लूटकर हुए थे फरार, पुलिस की पैनी नजर से नहीं बच पाए शातिर, जानिए पूरा मामला

एसएसपी प्रशांत अग्रवाल ने 'नाकेबंदी अभ्यास' में अच्छा काम करने वाले जवानों को किया पुरस्कृत

शिवम मिश्रा, रायपुर। राजधानी के टैगोर नगर स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा में लूट की खबर मिली. 2 बाइक सवार 4 अज्ञात लुटेरों ने बैंक से 10 लाख लूटकर फरार होने की खबर से सनसनी फैल गई. पुलिस को जानकारी लगते ही अलर्ट मोड में आ गई. शहर के चारों तरफ पुलिस की नाकेबंदी रही. कंट्रोल रुम की सूचना पर शहर के प्रमुख चौराहों पर चेकिंग की गई. कुछ ही घंटे में पुलिस ने आरोपियों को धर दबोचा.

जानकारी के मुताबिक बैंक ऑफ बड़ोदा के टैगोर नगर ब्रांच में शाम 4 बजे से लूट की सनसनी फैली. पुलिस कंट्रोल रूम से सभी थानों के मुख्य चौक-चौराहों पर चेकिंग के पॉइंट चलाया गया, जिसके बाद पुलिस तत्काल हरकत में आकर शहर के चारों ओर ताबड़तोड़ नाकेबंदी की.

कंट्रोल रूम से सेट पर सूचना दी गई की 2 बाइक सवार 4 अज्ञात लुटेरों ने 10 लाख रुपए लूटकर फरार हुए हैं. पुलिस हुलया के आधार पर लुटेरों की तलाश में जुट गई, जिसके बाद कोतवाली इलाके के पास नाकेबंदी में तैनात जवानों ने बाइक सवार 2 लुटेरों पर संदेह जताया.

लुटेरों ने पुलिस को देख भागने की कोशिश की, लेकिन लुटेरों को जवानों ने चांदनी चौक के पास पकड़ने में सफल हुए. इसी तरह आजाद चौक क्षेत्र में नाकेबंदी के दौरान पुलिस ने दूसरे बाइक सवार लुटेरों को गिरफ्तार करने में सफल रही है. आरोपियों के गिरफ्तारी के बाद जानकारी मिली कि ऐसी वारदातों से निपटने के लिए मॉकड्रिल किया जा रहा था. कोई लूट नहीं हुई है.

बता दें कि आज के नाकेबंदी अभ्यास में अच्छा कार्य करने वाले इन स्टाफ़ को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल ने नगद इनाम से पुरस्कृत किया है. कोतवाली के आरक्षक 2444 निराधार ध्रुव, 1827 राजेन्द्र यदु व यातायात से 1835 मनोज सावड़े, रमेश यादव और आरक्षक सुदीप मिश्रा को पुरस्कार दिया है.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!