दीवाली पर भी हैवानियत से बाज नहीं आए लोग, कहीं मासूम बच्ची के मुंह में फोड़ा बम तो कहीं बेटी के प्रेमी को दीवाली के दिन दौड़ाकर मार डाला

लखनऊ. उत्तर प्रदेश से हैरान करने वाली खबरें सामने आई हैं. मेरठ के सरधना क्षेत्र के मिलक गांव में एक शरारती अधेड़ ने 3 साल की मासूम बच्ची के मुंह में बुलेट बम रखकर फोड़ दिया. जिसके चलते मासूम बच्ची के मुंह के चिथड़े उड़ गए.

घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया. बच्ची को लहूलुहान हालत में देख ग्रामीण उधर को दौड़े. आरोपी की तलाश की, लेकिन आरोपी हत्थे नहीं चढ़ सका. सरधना क्षेत्र के मिलक गांव के रहने वाले शशिपाल ने बताया कि उसकी तीन साल की बेटी घर में खेल रही थी. घर के बाहर बच्चे पटाखे जला रहे थे. बच्ची भी घर के बाहर खेलने चली गई. इसी दौरान गांव का एक अधेड़ वहां पहुंचा और उसने मासूम के मुंह में बुलेट बम रखकर आग लगी दी. बम फूटने से बच्ची के मुंह के चिथड़े उड़ गए. बच्ची गंभीर रुप से घायल हो गई. मौके पर शोर मचने के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया.

मासूम बच्ची आरुषि के पिता शशिपाल मौके पर पहुंचे और बच्ची को नर्सिंग होम में भर्ती कराया. बच्ची को करीब दर्जन भर से ज्यादा टांके आए हैं.

उधर राज्य के कन्नौज जिले के बहादुरपुर में पिता ने बेटी के प्रेमी की गोली मारकर हत्या कर दी. बीचबचाव करने आए चचेरे भाई को भी गोली मार दी. गंभीर हालत में उसे मेडिकल कॉलेज तिर्वा से कानपुर रेफर किया गया है. इस मामले में मृतक के पिता ने प्रेमिका के पिता, चाचा और भाई के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज करा दी है. पुलिस ने पूछताछ के लिए प्रेमिका और उसकी मां को थाने में बैठा लिया है.

कन्नौज सौरिख थाना क्षेत्र के बहादुरपुर मझिगवां गांव निवासी रॉबिन उर्फ शिवम (22) एक लेदर कंपनी में इंजीनियर था. दिवाली का त्योहार मनाने मंगलवार को ही वह घर आया था. बुधवार सुबह रॉबिन किराने की दुकान पर सामान खरीदने गया था. उसके साथ चचेरा भाई मयंक शेखर उर्फ मोनू भी था. लौटते समय दुकान के करीब गांव के ही एक व्यक्ति ने दोनाली बंदूक से रॉबिन को गोली मार दी. ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि हमलावर की बेटी से रॉबिन का प्रेम प्रसंग चल रहा था. इसके चलते उसने रॉबिन की हत्या की है.

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।