जिम्बाब्वे वनडे से पहले टीम में केएल राहुल की वापसी पर शिखर धवन ने जताई खुशी, कही ये बात …

भारतीय सलामी बल्लेबाज शिखर धवन का मानना है कि एशिया कप से पहले जिम्बाब्वे के खिलाफ वनडे सीरीज केएल राहुल के लिए महत्वपूर्ण होगी. साथ उन्होंने उन युवा खिलाड़ियों की भी तारीफ की, जो दौरे के लिए भारतीय टीम का हिस्सा हैं. राहुल को टीम में शामिल करने से पहले धवन को शुरूआत में जिम्बाब्वे में टीम का नेतृत्व करने के लिए तैयार किया गया था. लेकिन फिट राहुल अब टीम का नेतृत्व करेंगे, उन्हें एशिया कप में जाने से पहले कुछ मैच खेलने की जरूरत है.

30 वर्षीय खिलाड़ी केएल राहुल एक सर्जरी के कारण इंग्लैंड और आयरलैंड दौरों से बाहर हो गए थे, जिसमें कोरोना संक्रमण ने उनका कार्यकाल बढ़ा दिया था. आईपीएल 2022 के समापन के बाद, राहुल दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू टी20 में भारत की कप्तानी करने वाले थे, लेकिन चोट के कारण चूक गए थे.

सलामी बल्लेबाज शिखर धवन को वेस्टइंडीज और यूएसए के दौरे के लिए वापसी करनी थी, कोरोना संक्रमित होने के बाद बीसीसीआई की मेडिकल टीम ने उन्हें आराम करने की सलाह दी. इस महीने के अंत में एशिया कप के लिए जिम्बाब्वे के अलावा राहुल को पहले ही भारत की टीम में शामिल किया जा चुका है.

इसे भी पढ़ें – छत्तीसगढ़ की बेटी का कमाल, यूरोप की सबसे ऊंची चोटी ‘माउंट एल्ब्रुस’ पर अंकिता ने लहराया तिरंगा, देखिए वीडियो…

धवन ने सीरीज से पहले राहुल की वापसी पर कहा कि “यह बहुत अच्छी खबर है कि केएल टीम में वापस आ गए हैं और टीम का नेतृत्व कर रहे हैं. वह भारतीय टीम के मुख्य खिलाड़ियों में से एक हैं और आने वाले एशिया कप के साथ उनका फिट रहना जरूरी है और मुझे यकीन है कि इस दौरे से उन्हें बहुत कुछ फायदा होगा. इतनी प्रतिभा के साथ, भारतीय टीम में जगह बनाने की होड़ तेज हो रही है. ईशान किशन, शुभमन गिल और रुतुराज गायकवाड़ टीम में सलामी बल्लेबाज की रेस में बने हुए हैं. धवन के साथ 18 से 22 अगस्त के बीच तीन मैचों की वनडे श्रृंखला के दौरान वापसी करने वाले केएल राहुल की भागीदारी होगी.

यह पूछे जाने पर कि युवाओं का दृष्टिकोण उनसे अलग कैसे है, तो धवन ने उनकी जमकर तारीफ किया है. शिखर धवन ने कहा कि “युवा खिलाड़ी काफी आश्वस्त हैं और हर कोई अलग है. उनके पास अच्छी तकनीक है. घरेलू क्रिकेट और आईपीएल की वजह से भारतीय टीम के लिए बदलाव अच्छा रहा है. उनका आत्मविश्वास का स्तर काफी ऊंचा है और इसलिए वे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में इतनी अच्छी तरह से प्रदर्शन कर रहे हैं.”

इसे भी पढ़ें – फिल्म ‘दोबारा‘ की स्क्रीनिंग पर अनुराग कश्यप और तापसी पन्नू ने बिना सैंडिल उतारे जला दिया दीपक, भड़क उठे लोग …

भारत जिम्बाब्वे की टीम के खिलाफ उतरेगा, जो बांग्लादेश के खिलाफ अपनी वनडे और टी20 श्रृंखला जीत के बाद आत्मविश्वास से भरी हुई है. 36 वर्षीय धवन ने मेजबान टीम की तारीफ करते हुए दावा किया कि जिम्बाब्वे की फार्म में चल रही टीम हमारे के लिए अच्छी चुनौती होगी. बाएं हाथ के बल्लेबाज ने वनडे प्रारूप के महत्व पर भी बातचीत किया था.

धवन ने कहा कि “यह एक बेहतर प्रारूप है, जहां आपको पता होना चाहिए कि कब आक्रमण करना है और कब बचाव करना है. यह जल्दबाजी वाला प्रारूप नहीं है.हम इसे लंबे समय से खेल रहे हैं और मुझे इसे खेलने में मजा आता है.”

इसे भी पढ़ें

Related Articles

Back to top button