आडवाणी का टिकट कटने से तिलिमिलाई शिवसेना, भाजपा को सुनाई खरी-खोटी

दिल्ली. बीजेपी की तरफ से दो दिन पहले गुजरात के गांधी नगर लोकसभा सीट पर पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के उतारे जाने की घोषणा के बाद शिवसेना ने कहा कि लालकृष्ण आडवाणी भारतीय जनता पार्टी के बड़े नेता बने रहेंगे। गांधी नगर सीट से लालकृष्ण आडवाणी चुनाव लड़ते आ रहे थे।

शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में यह कहा गया कि अमित शाह राजनीतिक तौर पर भीष्म पितामह माने जानेवाले आडवाणी की जगह लड़ रहे हैं, जिन्हें भारतीय राजनीति से ‘जबरदस्ती’ रिटायर किया गया है।

संपादकीय में यह कहा गया- “लालकृष्ण आडवाणी को भारतीय राजनीति का भीष्म पितामह कहा जाता है। लेकिन, उनका नाम लोकसभा चुनावों में उम्मीदवारों की सूची में नहीं है। यह कोई हैरान करनेवाली बात नहीं है।”

शिवसेना ने कहा कि इसके बाद यह जाहिर होता है का बीजेपी के आडवाणी युग का अंत हो गया है। संपादकीय में यह कहा गया- “अडवाणी छह बार गुजरात के गांधी नगर लोकसभा सीट से चुने गए। अब इस सीट से अमित शाह लड़ेंगे। इसका साधारण अर्थ यह है कि उन्हें जबरदस्ती रिटायर किया गया है।”

Back to top button
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।