Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

नई दिल्ली। दिल्ली-एनसीआर में आज आसमान साफ रहा. अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 15 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान लगाया गया था. भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के अनुसार, सुबह 8.30 बजे सापेक्षिक आद्रता 75 प्रतिशत दर्ज की गई. वायु गुणवत्ता में पीएम 2.5 और पीएम 10 प्रदूषकों का स्तर क्रमश: 73 और 138 है. सिस्टम ऑफ एयर क्वॉलिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) के अनुसार, दोनों मध्यम श्रेणी के अंतर्गत हैं. शहर की कुल वायु गुणवत्ता एक्यूआई 303 पर ‘बहुत खराब’ है. हर साल के तरह इस साल भी दिल्ली की हवा ठंड के दस्तक के साथ जहरीली होती जा रही है. दिल्ली के कई इलाकों में हवा का प्रदूषण स्तर मानकों से छह गुना से ज्यादा दर्ज किया गया है.

दिल्ली: 100 फीसदी कैपेसिटी के साथ खुलेंगे हॉल, शादियों में अब शामिल हो सकेंगे 200 लोग

 

शून्य से 50 के बीच एक्यूआई अच्छा माना जाता है, 51 और 100 संतोषजनक, 101 और 200 के बीच मध्यम, 201 और 300 के बीच खराब, 301 और 400 बहुत खराब और 401 और 500 के बीच गंभीर माना जाता है. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार, आनंद विहार में ‘बहुत खराब’ श्रेणी के तहत 325 का एक्यूआई दर्ज किया है. आईटीओ का एक्यूआई 270 ‘खराब’ है, जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में 293 पर ‘खराब’ है, शादीपुर में 371 पर ‘बहुत खराब’ है. नोएडा और गाजियाबाद का एक्यूआई भी ‘खराब’ श्रेणी में है.

भाजपा फिलहाल कहीं नहीं जा रही, मगर राहुल को इस बात का अहसास नहीं : प्रशांत किशोर

 

प्रोजेक्ट सफर और मिनिस्ट्री ऑर अर्थ साइंस के निदेशक डॉक्टर गुफरान बेग ने बताया कि हरियाणा और पंजाब में कुछ स्थानों पर पराली जलाने का असर दिल्ली की हवा पर पड़ रही है और यहां का हवा की गुणवत्ता खराब होती जा रही है. इसके अतिरिक्त हवा की रफ्तार कम होने के कारण हवा में प्रदूषण का स्तर और भी बढ़ता जा रहा है.