Smart Shopping के कुछ खास टिप्स, जो त्योहारी खर्चे से दिलाएंगे राहत

फेस्टिव सीजन आते ही त्योहारी खर्चे भी आ चुके हैं. इन खर्चों के चलते त्योहारों पर जेब पर बोझ बढ़ जाता है. लेकिन ऐसा तभी होता है, जब​ इन खर्चों को अनप्लान्ड तरीके से किया जाए. अगर स्मार्ट तरीके से पहले से प्लानिंग करके खर्चे हों तो त्योहारों को सेलिब्रेट भी किया जा सकेगा और खर्चे बजट में भी रहेंगे. आइए जानते हैं त्योहारों पर खर्चे मैनेज करने के ऐसी ही 6 स्मार्ट तरीकों के बारे में

  1. त्योहारी खर्चों के लिए बनाएं बजट

सबसे पहले अपने त्योहारी खर्चों के लिए एक बजट निर्धारित करें. ऐसा न करने पर खर्चे क्षमता से ज्यादा हो जाते हैं. ज्यादातर लोगों को दिवाली पर बोनस मिलता है. इसे अगर सोच-समझकर खर्च किया जाए तो इससे भी वित्तीय लक्ष्यों को पूरा करने में मदद मिल सकती है. त्योहारी खर्चों के लिए बजट बनाते हुए मैक्सिमम लिमिट तय करें.

लिस्ट में जरूरी चीजों को रखें और लिस्ट वरीयता क्रम में बनाएं. यानी सबसे जरूरी काम को सबसे पहले रखें. ताकि अगर फंड कम भी पड़े तो सबसे जरूरी चीजें न छूटें. वैसे तो त्योहारों पर खर्चे होते ही हैं लेकिन कोशिश करें कि आप इसमें बचत भी कर सकें.

  1. खर्चे के लिए उधार लेने से बचें

फेस्टिव सीजन में बैंक और लेंडिंग इंस्टीट्यूशंस आम तौर पर कई तरह के लोन ऑफर देते हैं. लेकर कोशिश करें कि त्योहारी खरीदारी के लिए उधार लेने से बचा जाए. अनप्लान्ड लोन आपके वित्तीय प्लानिंग को संकट में डाल सकता है. फेस्टिव खर्चों के लिए लोन तभी लें, जब ये बेहद जरूरी हो और कोई अन्य विकल्प न हो.

  1. खर्चों का रखें रिकॉर्ड

खर्चा करते हुए इसका हिसाब रखना भी जरूरी है. इसलिए हर खर्चे को नोट करते जाएं. इससे आपको अपने बचे हुए बजट का अनुमान लगाने में मदद मिलेगी. साथ ही अगली बार के लिए यह भी पता चलेगा कि कौन सा खर्च न करने से भी काम चल सकता है.

  1. ​छूट के चक्कर में फिजूलखर्ची से बचें

फेस्टिव सीजन में कई तरह के ऑफर चलते हैं, जिनमें चीजों पर बड़े-बड़े डिस्काउंट दिए जाते हैं. लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप डिस्काउंट के चक्कर में आकर फिजूल के खर्च कर डालें. डिस्काउंट केवल जरूरत की चीजों को सस्ते में खरीदने में फायदेमंद रहता है. लेकिन यही डिस्काउंट कभी-कभी बेकार के खर्चे भी करा देता है.

  1. त्योहारी खर्च को रोजमर्रा के खर्च से रखें अलग

अपने त्योहारी खर्च को रोजमर्रा के खर्चों से अलग रखें. अगर डेली खर्च को त्योहारी खरीदारी के लिए खर्च कर डालेंगे तो इससे रेगुलर खर्चों में दिक्कत पैदा हो जाएगी. इसके अलावा इमरजेंसी फंड को भी त्योहारी खर्च के लिए इस्तेमाल करने से बचें.

  1. खर्चों के लिए सही टूल का करें इस्तेमाल

फेस्टिव सीजन के खर्चों के लिए सही तरीका इस्तेमाल करें. कई लोग क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं और इन पर ऑफर और डिस्काउंट भी मिलते हैं. लेकिन इससे आप लिमिट से ज्यादा खर्च भी कर सकते हैं. इसलिए क्रेडिट कार्ड से सोच-समझकर खर्च करें. अगर आप क्रेडिट या डेबिट कार्ड से ईएमआई पर खरीदारी करते वक्त चार्ज जरूर चेक कर लें.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।