आईपीएल 2020- स्पेशल विमान से साउथ अफ्रीकी खिलाड़ियों को यूएई लाने की तैयारी, पढ़िए पूरी खबर

स्पोर्ट्स डेस्क– आईपीएल सीजन-13 का आयोजन यूएई में होना है, जिसकी तैयारी शुरु हो चुकी है, फ्रेंचाईजियों ने भी अपनी तैयारी जारी कर दी है, क्योंकि कोरोनाकाल में आईपीएल का आयोजन इतना आसान नहीं होने वाला है, खिलाड़ियों को यूएई तक लाना ले जाना ही एक बड़ी चुनौती है।

खबर है कि आईपीएल सीजन-13 में हिस्सा लेने के लिए साउथ अफ्रीका के खिलाडियों को चार्टड विमान से यूएई में लाने की तैयारी है, गौर करने वाली बात है कि साउथ अफ्रीका में लॉकडाउन के चलते यात्राओं पर पूरी तरह से बैन लगा हुआ है, लेकिन डिविलियर्स, रबाडा, डुप्लेसिस, डी कॉक़ जैसे खिलाड़ी अपनी टीमों का अहम हिस्सा हैं, ऐसे में इन्हें फ्रेंचाईजी टीम किसी भी कीमत पर आईपीएल के शुरुआत से ही लाना चाहती हैं।

हालांकि खबर ये भी है कि साउथ अफ्रीका के खिलाड़ियों को यूएई लाने का फैसला आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की बैठक के बाद लिया जाएगा।

फ्रेंचाईजी के एक अधिकारी ने कहा है कि हम जानते हैं कि साउथ अफ्रीकी खिलाड़ी फंसे हुए हैं, हम रविवार को होने वाली आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की बैठक का इंतजार कर रहे हैं उसके बाद ही हम फैसला करेंगे, अन ऑफिशियल हमारी चर्चा हुई है, और ये एक या दो फ्रेंचाईजी तक ही सीमित नहीं है, लगभग सभी फ्रेंचाइजियों के शीर्ष खिलाड़ी साउथ अफ्रीका से हैं, और उनके चार्टड विमान से यूएई ले जाना हमारे लिए सही रहेगा, इसे लेकर जो भी खर्चा आएगा फ्रेंचाइजियां आपस में बांटेंगी, रविवार को होने वाली बैठक के बाद ही इस पर आखिरी फैसला लिया जाएगा।

इतना ही हीं इस बात को सहमति देते हुए एक दूसरे फ्रेंचाईजी के अधिकारी ने कहा है कि हर फ्रेंचाईजी अपने खिलाड़ी के लिए अलग विमान भेजे इससे बेहतर है कि सभी मिलकर एक विमान भेज दें।

गौरतलब है कि आईपीएल सीजन 13 का आयोजन 19 सितंबर से यूएई में होना है, जिसके लिए आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की बैठक रविवार 2 अगस्त को है, जिसके बाद आईपीएल को लेकर तैयारियां और तेज की जा सकती हैं। क्योंकि सभी फ्रेंचाईजी टीमें अपने खिलाड़ियों की ट्रेनिंग जल्द से जल्द शुरू करना चाहेंगी। क्योंकि इस कोरोनाकाल में खिलाड़ियों की ट्रेनिंग भी पिछले कई महीने से बंद है ऐसे में खिलाड़ियों को लय में लौटने के लिए कम से कम एक महीने की ट्रेनिंग तो जरूरी होगी ही।

loading...

Related Articles

loading...
Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।